BCCI has decided that ‘Yo-Yo’ tests will conducted ahead of team selections
Rohit Sharma © IANS

भारतीय क्रिकेट बोर्ड यानी बीसीसीआई ने यो-यो टेस्ट को लेकर एक अहम फैसला किया है। भारतीय क्रिकेट टीम में चयन होने के बाद यो-यो टेस्ट में लगातार खिलाड़ी फेल हो रहे हैं जिसको देखते हुए बोर्ड ने बड़ा फैसला लिया है। अब टीम में उन्हीं खिलाड़ियों का चयन किया जाएगा जिन्होंने यो-यो टेस्ट पास किया हो।

यो-यो टेस्ट को तैयार रोहित शर्मा, फेल हुए तो अजिंक्य रहाणे को मिलेगा मौका
यो-यो टेस्ट को तैयार रोहित शर्मा, फेल हुए तो अजिंक्य रहाणे को मिलेगा मौका

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने पीटीआई से बताया , ‘‘ आगे से खिलाड़ियों का चयन फिटनेस टेस्ट में सफल होने के बाद ही किया जाएगा। इंग्लैड दौरे के लिए टीम का चयन आईपीएल के दौरान हुआ था इसलिए खिलाड़ी चयन के बाद फिटनेस टेस्ट के लिए उपलब्ध हुए।’’

उन्होंने कहा , ‘‘ चयन के बाद टेस्ट होने से खिलाड़ी असहज स्थिति में आ जाते है और आगे से ऐसा नहीं होगा। ’’

रायुडू ने आईपीएल में दमदार प्रदर्शन के बूते एकदिवसीय टीम में वापसी की थी लेकिन बोर्ड द्वारा फिटनेस के लिए तय मानकों पर वह खरे नहीं उतरे और उनकी जगह इंग्लैंड दौरे पर होने वाली एकदिवसीय श्रृंखला के लिए टीम में सुरेश रैना को शामिल किया गया है। पिछले कुछ समय से मैदान की बाहर की गतिविधियों के कारण सुर्खियों मे रहे शमी भी यो – यो टेस्ट में सफल नहीं हो सके और अफगानिस्तान टेस्ट के लिए टीम में उनकी जगह दिल्ली के तेज गेंदबाज नवदीन सैनी को शामिल किया गया था।

शमी को इंग्लैंड के खिलाफ होने वाली पांच मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए टीम चयन से पहले फिटनेस साबित करने का एक और मौका मिलेग।

सीओए की बैठक में यह भी फैसला किया गया कि आगामी रणजी ट्राफी में शामिल होने वाली बिहार , उत्तराखंड और पूर्वोत्तर की नई टीमें ग्रुप डी में एक दूसरे के खिलाफ खेलेंगी और सिर्फ एक टीम क्वार्टर फाइनल के लिए क्वालीफाई करेगी।