हार्दिक पांड्या © AFP
हार्दिक पांड्या © AFP

टीम इंडिया के ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या का आज जन्मदिन है। 11 अक्टूबर 1993 को गुजरात के चोरयासी में जन्म लेने वाले हार्दिक पांड्या आज 24 साल के हो गए हैं। इतनी छोटी सी उम्र में हार्दिक पांड्या पूरे क्रिकेट वर्ल्ड में पॉपुलर हो चुके हैं। मौजूदा दौर में इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स के बाद हार्दिक पांड्या ही ऐसे ऑलराउंडर हैं जिन्हें क्रिकेट एक्सपर्ट काफी टैलेंटेड मानते हैं। हार्दिक पांड्या ने जब से टीम इंडिया में एंट्री की है, उन्होंने बल्लेबाजी, गेंदबाजी और फील्डिंग में खासा नाम कमाया है। हार्दिक छक्के तो लगाते ही हैं साथ ही अपनी रफ्तार से विकेट भी निकालते हैं। सिर्फ एक साल पहले ही डेब्यू करने वाले हार्दिक पांड्या की भारत के महानतम ऑलराउंडर कपिल देव से तुलना होने लगी है। हार्दिक पांड्या आज एक बड़े ऑलराउंडर के तौर पर तो मशहूर हो रहे हैं लेकिन उनके जीवन के कुछ ऐसे राज भी हैं जो बहुत ही कम लोग जानते हैं। आइए डालते हैं उन 10 राजों पर एक नजर।

1. सिर्फ 8वीं पास हैं हार्दिक पांड्या- टीम इंडिया के ऑलराउंडर ने 8वीं क्लास तक ही पढ़ाई की है। हार्दिक 9वीं क्लास में फेल हो गए थे और इसके बाद उन्होंने अपने खेल पर ध्यान देना शुरू कर दिया।

2. अंग्रेजी पर दिया खास ध्यान- भले ही हार्दिक पांड्या ने स्कूल छोड़ दिया लेकिन उन्होंने अपनी अंग्रेजी पर खास ध्यान दिया। हार्दिक के मुताबिक आज के जमाने में अंग्रेजी बहुत जरूरी है, जिसके लिए उन्होंने इस भाषा में महारात हासिक की। आज हार्दिक पांड्या फर्राटेदार अंग्रेजी बोलते हैं।

3. कई टीमों से निकाले गए हार्दिक पांड्या- हार्दिक पांड्या ने जूनियर क्रिकेट में कई मैच अपने दम पर जिताए। क्लब क्रिकेट में उनका खासा नाम रहा लेकिन इंडियन एक्सप्रेस को दिए इंटरव्यू में हार्दिक पांड्या ने खुलासा किया था कि उनके आक्रामक रवैये की वजह से उन्हें कई टीमों से बाहर भी निकाला गया।

4. जॉन राइट ने दिया IPL में मौका- मुंबई इंडियंस के कोच जॉन राइट ने सबसे पहले हार्दिक पांड्या के टैलेंट को पहचाना। हार्दिक जब लिस्ट ए क्रिकेट की शुरुआत कर रहे थे तो उस दौरान जॉन राइट की नजर उन पर पड़ी और उन्होंने हार्दिक का ट्रायल लिया। इसके बाद उन्हें मुंबई इंडियंस ने 10 लाख के बेस प्राइस पर खरीद लिया।

5. सचिन ने की थी कामयाबी की भविष्यवाणी- टीम इंडिया के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने आईपीएल में हार्दिक पांड्या की गेंदबाजी और बल्लेबाजी को देखकर भविष्यवाणी की थी कि वो जल्द ही टीम इंडिया में खेलते नजर आएंगे। सचिन की ये भविष्यवाणी बिलकुल सही हुई। 26 जनवरी 2016 को हार्दिक पांड्या ने पहली बार टीम इंडिया की नीली जर्सी पहनी। हार्दिक ने एडिलेड में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 मैच से अपने करियर की शुरुआत की।


6. इरफान पठान ने दिया था बैट- हार्दिक पांड्या की माली हालत खराब थी। वो मैगी खाकर अपनी भूख मिटाया करते थे। पांड्या के पास बल्ला खरीदने तक के पैसे नहीं थे। विजय हजारे ट्रॉफी में उन्हें इरफान पठान ने अपना बैट खेलने के लिए दिया था। ये भी पढ़ें: इंग्लिश पिचों की तरह थी बारसपारा की पिच: डेविड वॉर्नर

7. मुफ्त में सीखा क्रिकेट का ककहरा- हार्दिक पांड्या और उनके भाई क्रुणाल पांड्या ने क्रिकेट के गुर मुफ्त में सीखे थे। हार्दिक और क्रुणाल दोनों ने टीम इंडिया के पूर्व विकेटकीपर किरण मोरे की क्रिकेट एकेडमी में एडमिशन लिया था और मोरे ने दोनों भाइयों से तीन साल तक कोई फीस नहीं ली।

8. लेग स्पिनर थे हार्दिक पांड्या- बहुत कम लोगों को पता है कि हार्दिक पांड्या पहले लेग स्पिन करते थे। किरण मोरे की एकेडमी में वो लेग स्पिनर बनने की कोशिश में थे। लेकिन किरण मोरे की सलाह पर उन्होंने मीडियम पेस शुरू की, जिसके बाद उन्हें सफलता हाथ लगी।

9. 400 रु. में क्रिकेट खेलते थे हार्दिक पांड्या- साल 2010 में हार्दिक पांड्या के पिता को हार्ट अकैट आया था जिसके चलते उनके पिता को नौकरी छोड़नी पड़ी। पिता की तबीयत खराब होने के बाद हार्दिक और उनके भाई क्रुणाल गांव में जाकर क्रिकेट खेलते थे। जिसके लिए उन्हें 400 से 500 रु. मिलते थे।


10. एक ओवर में 39 रन बनाए थे- हार्दिक पांड्या लंबे-लंबे छक्के लगाने के लिए मशहूर हैं। हार्दिक ने 2016 में सैयद मुश्ताक अली टी20 टूर्नामेंट के दौरान दिल्ली के खिलाफ एक ओवर में 39 रन कूट दिए थे। एक ओवर में हार्दिक ने लगातार 5 छक्के और एक चौका लगाया था।