India vs South Africa, 4th ODI, Preview and likely XI: AB de Villiers can become a barrier in India’s historic victory
© AFP

लगातार तीन वनडे मैच जीत चुकी भारतीय टीम कल जोहान्सबर्ग में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ चौथे वनडे में ऐतिहासिक जीत दर्ज करने के इरादे से उतरेगी। भारत की इस ऐतिहासिक जीत में दक्षिण अफ्रीका के एबी डी विलियर्स बड़ी रुकावट बन सकते हैं। 3-0 की अजेय बढ़त बनाने के बाद भारत दक्षिण अफ्रीकी सरजमीं पर पहली वनडे सीरीज जीतने के करीब है। इससे पहले 2010-11 में महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया ने पहली बार 2-1 से बढ़त बनाई थी लेकिन बाद में भारत 3-2 से सीरीज हार गया था।

विराट कोहली की अगुवाई में टीम इंडिया के लगभग सभी खिलाड़ी अच्छे फॉर्मे में हैं। केपटाउन में करियर का 34वां वनडे शतक लगाकर कोहली शानदार फॉर्म में है, वहीं दो लगातार अर्धशतक लगाकर शिखर धवन भी लय में लौट आए हैं। हालांकि रोहित शर्मा का फ्लॉप प्रदर्शन भारत के लिए समस्या का कारण बना हुआ है। अब तक खेले तीनों मैचों में मेजबान टीम ने कोई बड़ा स्कोर नहीं बनाया है, इस वजह से भारत के मध्यक्रम को ठीक से परखा नहीं गया है। हालांकि तीसरे वनडे के दौरान हार्दिक पांड्या, महेंद्र सिंह धोनी और केदार जाधव को बल्लेबाजी का मौका मिला था लेकिन तीनों में से कोई भी बड़ी पारी नहीं खेल पाया। ऐसे में देखना होगा की जरूरत पड़ने पर भारतीय मध्यक्रम के बल्लेबाज कैसा प्रदर्शन करते हैं।

भारत बनाम दक्षिण अफ्रीका: जोहान्सबर्ग वनडे में इन आकड़ों पर रहेगी दोनों टीमों की नजर
भारत बनाम दक्षिण अफ्रीका: जोहान्सबर्ग वनडे में इन आकड़ों पर रहेगी दोनों टीमों की नजर

गेंदबाजी की बात करें तो टीम इंडिया ने अब तक कोई गलती नहीं की है। स्पिन ट्विन युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव ने दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों को कोई मौका नहीं दिया है। नेट सेशन में 5 लेग स्पिनरों के खिलाफ अभ्यास करने के बाद भी मेजबान टीम के खिलाड़ियों के लिए इन रिस्ट स्पिनरों को पढ़ना मुश्किल हो रहा है। भारतीय तेज गेंदबाज भी शानदार फॉर्मे में है लेकिन स्पिनरों के रहते उन्हें कुछ खास करने का मौका नहीं मिला है। चौथे वनडे में भी टीम इंडिया बिना किसी बदलाव के उन्हीं 11 खिलाड़ियों के साथ उतरेगी।

भारत की संभावित प्लेइंग इलेवन: शिखर धवन, रोहित शर्मा, विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, केदार जाधव, एम एस धोनी, हार्दिक पंड्या, भुवनेश्वर कुमार,  युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह।

चौथे वनडे में एबी डी विलियर्स की वापसी दक्षिण अफ्रीका के लिए बड़ी राहत की बात है। हालांकि जोहान्सबर्ग वनडे में उनके खेलना पूरी तरह से तय नहीं है। दक्षिण अफ्रीकी टीम मैनेजमेंट का कहना है कि फिटनेस टेस्ट के बाद उनके खेलने को लेकर आखिरी फैसला लिया जायेगा। डी विलियर्स के टीम में लौटने पर डेविड मिलर या खाया जोंडो में से एक को बाहर रहना होगा। जोहान्सबर्ग वनजे में दक्षिण अफ्रीकी टीम गुलाबी जर्सी में उतरेगी। दरअसल हर सीजन दक्षिण अफ्रीका टीम स्तन कैंसर के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए पिंक वनडे खेलती है।

गौरतलब है कि दक्षिण अफ्रीका ने पिंक जर्सी में एक भी मैच नहीं हारा है। साथ ही पिंक वनडे में एबी डिविलियर्स का रिकॉर्ड भी शानदार है। अब तक खेले पांच मैचों में उन्होंने 112.5 के औसत से 450 रन बनाए है। पिंक जर्सी में डी विलियर्स ने तीन साल पहले वेस्ट इंडीज के खिलाफ 44 गेंदों पर 149 गेंदों की रिकॉर्डतोड़ पारी खेली थी।

दक्षिण अफ्रीका की संभावित प्लेइंग इलेवन: एडेन मारक्रम (कप्तान), हाशिम अमला, एबी डी विलियर्स, जेपी डुमिनी, इमरान ताहिर, क्रिस मॉरिस,  हेनरिच क्लासें (विकेटकीपर), मॉर्ने मॉर्केल, लुंगी एनगिडी, एंडिल फेहलुकवेओ, कगिसो रबाडा।