India vs South Africa, 5th ODI: Virat Kohli’s team create history and other statistical highlights
कुलदीप यादव © AFP

पोर्ट एलिजाबेथ में खेले गए पांचवें वनडे में जीत हासिल कर भारत ने पहली बार दक्षिण अफ्रीका में कोई बाईलैटरल सीरीज जीती है। टीम इंडिया ने 1992-93, 2006-07, 2010-11 और 2013-14 में दक्षिण अफ्रीका की जमीन पर हार झेली है। साथ ही पोर्ट एलिजाबेथ के सैंट जॉर्ज पार्क पर भारत की ये पहली जीत है। अब ऑस्ट्रेलिया ही ऐसा देश बचा है, जहां भारतीय टीम ने बाईलैटरल सीरीज नहीं जीती है।

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज के 5 मैचों में 16 विकेट लेकर कुलदीप यादव ने एक बड़ा कीर्तिमान अपने नाम कर लिया है। यादव दक्षिण अफ्रीका में खेली गए किसी सीरीज या टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले स्पिनर बन गए हैं। वहीं उनके साथी गेंदबाजी युजवेंद्र चहल 14 विकेट लेकर श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन के साथ दूसरे नंबर पर है। चहल और कुलदीप ने कीथ आर्थरटन (12) के दक्षिण अफ्रीका में खेली बाईलैटरल वनडे सीरीज में सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड भी तोड़ दिया है।

कुलदीप से पहले किसी भी गेंदबाज ने भारत-दक्षिण अफ्रीका बाईलैटरल सीरीज में 16 विकेट नहीं लिए थे। 14 विकेट के साथ चहल यहां भी दूसरे नंबर पर हैं। दोनों गेंदबाजों ने साल 2010-11 में लोनवाबो त्सोत्सोबे के बनाए 13 विकेट के रिकॉर्ड तो भी तोड़ दिया है।

कुलदीप यादव ने वनडे में अपने 38 विकेट पूरे कर लिए हैं और इसी के साथ वो माइकल बेवन (36) को पीछे छोड़कर वनडे में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले दूसरे चाइनामैन गेंदबाज बन गए हैं। 156 विकेटों के साथ ब्रैड हॉग पहले नंबर पर हैं।

पोर्ट एलिजाबेथ में खेली 115 रनों की शतकीय पारी के बाद दक्षिण अफ्रीका में रोहित शर्मा का बल्लेबाजी औसत 11.45 से बढ़कर 20.08 हो गया है।

पांचवें वनडे में 51 रन देकर चार विकेट लेने वाले दक्षिण अफ्रीका के लुंगी एनगिडी ने अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रिकॉर्ड किया।