एमएस धोनी © Getty Image
एमएस धोनी © Getty Image

एमएस धोनी श्रीलंका के खिलाफ कोलंबो में गुरुवार को खेले जाने वाले चौथे वनडे के साथ बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम करने वाले हैं। धोनी के करियर का यह 300वां वनडे मैच होगा। अभी तक उन्होंने 299 मैच खेले हैं। एमएस धोनी भारत की ओर से छठवें 300 वनडे खेलने वाले खिलाड़ी बनेंगे। उनके पहले यह रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर (463 वनडे), राहुल द्रविड़ (344 वनडे), मोहम्मद अजहरुद्दीन (334 वनडे), सौरव गांगुली (311 वनडे) और युवराज सिंह (302 वनडे) अपने नाम कर चुके हैं। एमएस धोनी चौथे वनडे में जब उतरेंगे तो उनके निशाने पर कुछ बड़े रिकॉर्ड होंगे। हम आपको 4 बड़े वनडे रिकॉर्डस के बारे में बताने जा रहे हैं जो एमएस धोनी इस मैच के साथ अपने नाम कर सकते हैं।

एशिया में 150 छक्के पूरे कर सकते हैं एमएस धोनी: वनडे क्रिकेट में 209 छक्के लगा चुके एमएस धोनी जब अपने 300वें वनडे मैच में उतरेंगे तो एशिया की सरजमीं पर अपने 150 छक्के पूरे करने का उनका लक्ष्य होगा। वह एशिया में अबतक 184 मैचों की 165 पारियों में 147 छक्के लगा चुके हैं। इस तरह से उन्हें अपने 150 छक्के पूरे करने के लिए 3 और छक्के जड़ने की जरूरत है। एशिया की सरजमीं पर सबसे ज्यादा 205 छक्के लगाने का रिकॉर्ड शाहिद अफरीदी के नाम है। अफरीदी ने एशिया में 237 मैचों की 219 पारियों में 205 छक्के लगाए हैं। अभी दूसरे नंबर श्रीलंका के सनथ जयसूर्या हैं। जयसूर्या एशिया में 275 मैचों की 268 पारियों में 148 छक्के लगा चुके हैं। 150 छक्के लगाने के साथ धोनी एशिया की सरजमीं पर वनडे में दूसरे सबसे ज्यादा छक्के लगाने वाले बल्लेबाजी बन जाएंगे।

खिलाड़ी के तौर पर 3,000 रन पूरे कर सकते हैं एमएस धोनी: एमएस धोनी ने साल 2004 में टीम इंडिया की ओर से डेब्यू किया था। इसके बाद साल 2007 में उन्हें टीम इंडिया का कप्तान बना दिया गया। वह साल 2016 तक टीम इंडिया के कप्तान रहे। इस दौरान उन्होंने कप्तान के तौर पर 199 मैचों में 53.92 की औसत से 6,633 रन बनाए। अब धोनी एक खिलाड़ी के तौर पर खेल रहे हैं। खिलाड़ी के तौर पर वह अबतक 100 मैचों की 86 पारियों में 47.98 की औसत से 2,975 रन बना चुके हैं। इस तरह से धोनी को एक खिलाड़ी के तौर पर अपने 3,000 रन पूरे करने के लिए 25 और रनों की दरकार है। [ये भी पढ़ें: टीम इंडिया के खिलाफ हार के बाद श्रीलंका क्रिकेट की चयन समिति ने दिया इस्तीफा]

100 स्टंपिंग्स पूरी करने पर धोनी की निगाह: एमएस धोनी की निगाहें वनडे में अपनी 100 स्टंपिंग्स पूरी करने पर हैं। धोनी अबतक 299 मैचों में 99 स्टंपिंग ले चुके हैं। इस तरह से वह वनडे में सबसे ज्यादा स्टंपिंग्स करने के मामले में संयुक्त रूप से कुमार संगकारा के साथ पहले नंबर पर हैं। अगर वह गुरुवार को खेले जाने वाले वनडे मैच में एक और स्टंपिंग अपने नाम कर लेते हैं तो वनडे क्रिकेट के इतिहास में 100 स्टंपिंग करने वाले दुनिया के पहले विकेटकीपर बन जाएंगे।

कोहली की कप्तानी में पूरे करेंगे 500 रन: भले ही एमएस धोनी पर पिछले कुछ समय से खराब क्रिकेट खेलने का आरोप लगता रहा हो लेकिन विराट कोहली की कप्तानी में उन्होंने अबतक जानदार बल्लेबाजी की है। धोनी ने कोहली की कप्तानी में अबतक 16 मैचों की 11 पारियों में 83 के भारी भरकम औसत के साथ 498 रन बनाए हैं। इस तरह से उन्हें कोहली की कप्तानी में अपने 500 पूरे करने के लिए 2 और रनों की दरकार है। धोनी इसके पहले चार भारतीय कप्तानों के साथ खेल चुके हैं लेकिन इतना बढ़िया औसत किसी के साथ नहीं रहा। यहां तक कि खुद की कप्तानी में भी उन्होंने 53.92 की औसत से रन बनाए हैं।