शतक लगाने के बाद जश्न मनाते हुए हार्दिक पांड्या © AFP
शतक लगाने के बाद जश्न मनाते हुए हार्दिक पांड्या © AFP

हार्दिक पांड्या ने श्रीलंका के खिलाफ पल्लेकेले टेस्ट में शानदार 96 गेंदों में 108 रनों की पारी खेली। इस दौरान उन्होंने 86 गेंदों में शतक पूरा किया और अपने नाम भारत की ओर से पांचवें सबसे तेज शतक बनाने का रिकॉर्ड कर डाला। हार्दिक पांड्या की आतिशी पारी का ही असर था कि एक समय 337/7 के साथ जूझती नजर आ रही टीम इंडिया ने आखिरकार 487 रन बना डाले। इस आतिशी पारी के दौरान पांड्या ने 7 छक्के और 8 चौके लगाए। आमतौर पर टेस्ट क्रिकेट में इतने छक्के बल्लेबाज मारते नहीं हैं लेकिन पांड्या ने अपने ही अंदाज में बल्लेबाजी की और विपक्षी गेंदबाजों के छक्के छुड़ा दिए। इस दौरान पांड्या ने छक्के जड़ने के कई रिकॉर्ड भी अपने नाम कर डाले। कौन हैं वे रिकॉर्ड्स आइए नजर डालते हैं।

1. हार्दिक पांड्या ने अपनी पारी के दौरान 7 गगनचुंबी छक्के लगाए। इस तरह से वह भारत की ओर से एक टेस्ट पारी में सर्वाधिक छक्के लगाने के मामले में वीरेंद्र सहवाग और हरभजन सिंह के साथ दूसरे नंबर पर पहुंच गए। पहले नंबर पर नवजोत सिंह सिद्धू हैं जिन्होंने एक टेस्ट पारी में 8 छक्के लगाए थे। सिद्धू ने यह कारनामा साल 1994 में श्रीलंका के खिलाफ लखनऊ में मुकम्मल किया था। सहवाग ने साल 2009 में श्रीलंका के खिलाफ और हरभजन सिंह ने साल 2010 में न्यूजीलैंड के खिलाफ इस कारनामे को अंजाम दिया था।

[ये भी पढ़ें: हार्दिक पांड्या ने एक ओवर में बटोरे 26 रन, बन गए नंबर 1]

2. साल 2017 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में छक्के लगाने के मामले में हार्दिक पांड्या भारत की ओर से पहले नंबर पर पहुंच गए हैं। पांड्या अबतक 26 छक्के लगा चुके हैं। भारत की ओर से दूसरे नंबर पर सबसे ज्यादा छक्के लगाने के मामले में विराट कोहली हैं जो 19 छक्के लगा चुके हैं। पांड्या साल 2017 में दुनिया में सबसे ज्यादा छक्के लगाने के मामले में चौथे नंबर पर हैं। पहले तीन नंबरों पर ऑइन मॉर्गन (33 छक्के), ईविन लुईस (32 छक्के) और बेन स्टोक्स (27 छक्के) हैं।

वैसे हार्दिक पांड्या ने इस सभी से बहुत कम गेंदें खेली हैं। पांड्या ने जहां इस दौरान 350 गेंदें खेली हैं। वहीं ऑइन मॉर्गन ने 848, ईविन लुईस ने 552 और बेन स्टोक्स ने 1051 गेंदें खेली हैं। इस लिहाज से पांड्या का छक्के मारने का औसत इन बल्लेबाजों से ज्यादा है।   [भारत बनाम श्रीलंका, तीसरा टेस्ट, दूसरा दिन, लाइव स्कोरकार्ड जानने के लिए क्लिक करें]

3. हार्दिक पांड्या 108 रन बनाकर आउट हो गए। यह उनका प्रथम श्रेणी क्रिकेट में सर्वोच्च स्कोर है। इसके पहले उनका सर्वोच्च स्कोर 90 था जो उन्होंने साल 2015 में बड़ौदा की ओर से खेलते हुए रेलवे के खिलाफ अपने 3 फर्स्ट क्लास मैच में बनाया था। हार्दिक पांड्या का यह शतक भारतीय टेस्ट क्रिकेट इतिहास में बनाया गया 483वां शतक है। वह टेस्ट में शतक लगाने वाले भारत के 81वें बल्लेबाज बन गए हैं।