विराट कोहली- दिनेश चांडीमल © Getty Images, AFP
विराट कोहली- दिनेश चांडीमल © Getty Images, AFP

श्रीलंका और भारत के बीच 3 टेस्ट मैचों की सीरीज का तीसरा और आखिरी टेस्ट मैच पल्लेकेले में खेला जाएगा। टीम इंडिया सीरीज में पहले ही 2-0 की अजेय बढ़त बना चुकी है, अब उसका मकसद श्रीलंका का क्लीन स्वीप करना होगा। ऐसे में ये मैच टीम इंडिया के लिए खासा अहमियत रखता है। इस मैच में टीम इंडिया कई रिकॉर्ड अपने नाम कर सकती है। साथ ही उसके खिलाड़ी भी एक से बढ़कर एक कारनामे कर सकते हैं। आइए तीसरे टेस्ट के शुरू होने से पहले एक नजर डालते हैं 10 दिलचस्प आंकड़ों पर।

1. वर्ल्ड क्रिकेट में सिर्फ ऑस्ट्रेलिया ही एकमात्र टीम है जिसने श्रीलंकाई सरजमीं पर उसका क्लीन स्वीप किया है। साल 2004 में रिकी पॉन्टिंग की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया ने श्रीलंका को 3-0 से हराया था। अब विराट कोहली की कप्तानी में भी टीम इंडिया के पास भी श्रीलंका का उसी की धरती पर क्लीन स्वीप करने का मौका है।

2. टीम इंडिया के 85 साल के टेस्ट इतिहास में कोई भी कप्तान विदेशी सरजमीं पर 3 या उससे ज्यादा टेस्ट मैचों की सीरीज को क्लीन स्वीप नहीं कर सका है। टीम इंडिया ने 2004 में बांग्लादेश और 2005 में जिम्बाब्वे में जरूर सीरीज क्लीन स्वीप की थी लेकिन वो सिर्फ 2 टेस्ट मैचों की सीरीज थी। इस बार विराट कोहली की अगुवाई में टीम इंडिया को पहली बार सीरीज को 3-0 से जीतने का मौका मिला है।

3.अगर टीम इंडिया ने पल्लेकेले टेस्ट जीत लिया तो वो श्रीलंका में सबसे ज्यादा मैच जीतने वाली विदेशी टीम बन जाएगी। इस वक्त पाकिस्तान और भारत ने श्रीलंका में 8-8 मैच जीते हैं। भारत के पास पल्लेकेले में पाकिस्तान से आगे निकलने का मौका है।

4. टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन में अगर कुलदीप यादव शामिल हुए और श्रीलंका ने भी लक्षण संदाकन को मौका दिया तो साल 2004 के बाद ये पहला मौका होगा जब दो विरोधी टीम में दो चाइनामैन गेंदबाज खेलेंगे।

5. आर अश्विन 300 विकेट से सिर्फ 14 रन दूर हैं। पल्लेकेले टेस्ट में उनके पास 300 विकेट पूरे करने का मौका है। अगर उन्होंने ये कारनामा कर दिया तो वो सबसे तेज 300 टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाज बन जाएंगे। सबसे तेज 300 विकेट लेने का रिकॉर्ड डेनिस लिली के नाम है जिन्होंने 56 टेस्ट में ये कारनामा किया था।

6. चेतेश्वर पुजारा मौजूदा कैलेंडर ईयर में 1000 रन पूरे करने से सिर्फ 157 रन दूर हैं। चेतेश्वर पुजारा अबतक 7 टेस्ट में 76.63 के औसत से 843 रन बना चुके हैं जिसमें 3 शतक और 4 अर्धशतक शामिल हैं। तीसरा टेस्ट, मैच प्रिव्यू: सीरीज क्लीन स्वीप करने के इरादे से पल्लेकेले में उतरेगी टीम इंडिया

7. पल्लेकेले में टीम इंडिया अपना डेब्यू करेगी। टीम इंडिया ने अबतक पल्लेकेले में कोई टेस्ट मैच नहीं खेला है। हालांकि उसने इस मैदान पर एक वनडे और एक टी-20 मैच खेला है।

8. के एल राहुल अगर पल्लेकेले टेस्ट की पहली पारी में भी अर्धशतक जमा देते हैं तो वो लगातार 7 पारियों में अर्धशतक लगाने के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेंगे।

9. पल्लेकेले में सबसे ज्यादा टेस्ट रन एंजेलो मैथ्यूज के नाम हैं। मैथ्यूज ने इस मैदान पर 38 के औसत से 228 रन बनाए हैं।

10. टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली पिछली 8 टेस्ट पारियों में सिर्फ एक ही बार 50 से ज्यादा का स्कोर बना सके हैं।