भुवनेश्वर कुमार  © AFP
भुवनेश्वर कुमार © AFP

आईपीएल 2017 का सफर अब अपने आखिरी पड़ाव पर है। बुधवार को बैंगलोर के चिन्नास्वामी स्टेडियम में कोलकाता नाइट राइडर्स बनाम सनराइजर्स हैदराबाद एलिमिनेटर मुकाबले में कोलकाता की जीत के बाद अब फाइनल मैच की उलटी गिनती शुरू हो गई। पहले सीजन की शुरुआत से ही यह टूर्नामेंट बल्लेबाजों का माना जाता रहा है। हालांकि धीरे धीरे सभी टीमों को ये समझ आने लगा कि बल्लेबाज भले ही कितने भी चौके-छक्के लगाए टी20 में मैच आपको गेंदबाज ही जिता सकते हैं। दसवें सीजन की शीर्ष चार टीमों में अगर कोई बात समान है तो वह है उनका बेहतरीन गेंदबाजी अटैक। 2008 से लेकर अब तक कई गेंदबाजों ने आईपीएल में अपनी गेंदबाजी का कमाल दिखाया। यहां हम आपको उन भारतीय गेंदबाजों के बारे में बताएंगे जिन्होंने इस सीजन में सबसे ज्यादा विकेट लिए हैं।

भुवनेश्वर कुमार (2017; 26 विकेट, 2016; 23 विकेट): भारतीय टीम के इस प्रतिभावान गेंदबाज ने दो आईपीएल सीजन में सबसे ज्यादा विकेट लिए हैं। हालांकि दसवां सीजन अभी खत्म नहीं हुआ है और सनराइजर्स हैदराबाद टूर्नामेंट से बाहर हो चुकी है लेकिन भुवी के 26 विकेटों के रिकॉर्ड को पार कर पाना किसी भी गेंदबाज के लिए आसान नहीं होगा। भुवनेश्वर ने इस सीजन 14 मैचों में 369 रन देकर कुल 26 विकेट लिए हैं। इस सीजन वह पर्पल कैप की दौड़ में सबसे आगे हैं। वहीं पिछले सीजन में सनराइजर्स हैदराबाद के इस खिलाड़ी ने 17 मैचों में 490 रन देकर 23 विकेट लिए थे और पर्पल कैप अपने नाम किया था। [ये भी पढ़ें: आईपीएल 2017, लाइव ब्लॉग: कोलकाता नाइट राइडर्स सात विकेट से मैच जीतकर क्वालीफायर मे पहुंची]

हरभजन सिंह (2013; 24 विकेट): एक सीजन में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाजों की सूची में अगला नाम भारत के सबसे सफल स्पिनर हरभजन सिंह का है। हरभजन आईपीएल के पहले सीजन से अब तक मुंबई इंडियंस का हिस्सा बने हुए हैं। हरभजन ने साल 2013 में मुंबई इंडियंस के लिए खेलते हुए 24 विकेट लेकर शीर्ष पांच गेंदबाजों की सूची में जगह बनाई थी। हालांकि उस सीजन पर्पल कैच पर्पल कैप चेन्नई सुपर किंग्स के ड्वेन ब्रावो को मिली थी लेकिन हरभजन तीसरे स्थान पर रहे थे। इस सीजन भी हरभजन का प्रदर्शन शानदार रहा लेकिन चोट और दूसरे कारणों की वजह से वह कई बार टीम से बाहर हुए जिस वजह से उनके खाते में ज्यादा विकेट नहीं आए।

युजवेंद्र चहल (2015; 23 विकेट): युजवेंद्र चहल जिन्होंने हाल ही में भारतीय टीम में अपनी जगह बनाई है, आईपीएल में दो साल पहले ही अपनी छाप छोड़ चुके हैं। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए खेलते हुए चहल ने 2015 में 23 विकेट लिए थे। उस सीजन चहल शीर्ष गेंदबाजों की सूची में तीसरे स्थान पर रहे थे। चहल ने 14 मैचों में 415 रन देकर 23 विकेट झटके थे। [ये भी पढ़ें: वीरेंदर सहवाग ने फिल्म थिएटर में देखी धोनी की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी!]

मोहित शर्मा (2014; 23 विकेट): इस सीजन किंग्स इलेवन पंजाब का हिस्सा रहे मोहित शर्मा भले ही कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाए हो लेकिन चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेलते हुए उन्होंने पर्पल कैप पर कब्जा किया था। 2014 आईपीएल सीजन में मोहित ने 16 मैचों में 452 रन देकर 23 विकेट लिए थे।

रुद्र प्रताप सिंह (2009; 23 विकेट): भारतीय टीम के तेज गेंदबाज रूद्र प्रताप सिंह ने भी आईपीएल में पर्पल कैप जीती है। सिंह ने 2009 में पूर्व विजेता टीम डेक्कन चार्जर्स के लिए खेलते हुए 16 मैचों में 23 विकेट लेकर ये कारनामा किया था। हालांकि वह लंबे समय से राष्ट्रीय टीम से बाहर हैं लेकिन वह रणजी मैचों में गुजरात के प्रमुख गेंदबाज हैं।

मुनाफ पटेल (2011; 22 विकेट): आईपीएल 2017 में गुजरात लायंस टीम का हिस्सा रहे मुनाफ पटेल पहले मुंबई इंडियंस का हिस्सा थे। साल 2011 में मुनाफ ने मुंबई के लिए खेलते हुए 15 मैचों में 22 विकेट लेकर सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाजों की सूची में दूसरे स्थान पर जगह बनाई थी। उस सीजन पर्पल कैप भी मुंबई इंडियंस के ही लसिथ मलिंगा के नाम रही थी।

प्रज्ञान ओझा (2010; 21 विकेट): आईपीएल का तीसरा सीजन भारतीय गेंदबाजों के लिए सबसे सफल रहा था। 2010 के आईपीएल में सबसे ज्यादा विकेट लेने वालें शीर्ष पांच गेंदबाजों की सूची में सभी भारतीय खिलाड़ी थे। इस सूची में पहले स्थान पर डेक्कन चार्जर्स के प्रज्ञान ओझा थे जिन्होंने 16 मैचों में 21 लेकर पर्पल कैप पर कब्जा किया था।

उमेश यादव (2012; 19 विकेट): टीम इंडिया के सबसे सफल तेज गेंदबाज उमेश यादव ने घरेलू टेस्ट सीजन के बाद आईपीएल में भी गजब का प्रदर्शन किया। कोलकाता नाइट राइडर्स के सफल अभियान में उमेश का बहुत बड़ा हाथ है। वैसे कम लोग जानते हैं कि वह पहले दिल्ली डेयरडेविल्स टीम का हिस्सा थे। साल 2012 में दिल्ली के लिए खेलते हुए उमेश ने 17 मैचों में 19 विकेट लेकर शीर्ष पांच गेंदबाजों में जगह बनाई थी।

शांताकुमारन श्रीसंत (2008; 19 विकेट): 2007 टी20 विश्व कप में भारतीय टीम के नायक रहे एस श्रीसंत का नाम भी इस सूची में शामिल है। श्रीसंत ने पहले आईपीएल सीजन में किंग्स इलेवन पंजाब के लिए खेलते हुए 15 मैचों में 19 विकेट लिए थे। श्रीसंत उस साल पर्पल कैप की दौड़ में तीसरे स्थान पर थे। हालांकि श्रीसंत पर बीसीसीआई ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेलने से प्रतिबंध लगा दिया है इस वजह से वह क्रिकेट के मैदान से दूर हैं।