Indian cricket team chance to win both format series in England
Kuldeep Yadav and MS dhoni © Getty Images

विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय क्रिकेट टीम इंग्लैंड दौरे पर कमाल का प्रदर्शन कर रही है। टीम ने पहले टी-20 सीरीज में मेजबान को पटखनी दी और अब वह वनडे सीरीज जीतने की दहलीज पर है। शनिवार को भारतीय टीम के पास सीरीज जीत कर इतिहास रचने का मौका है।

भारतीय टीम ने अब तक इंग्लैंड में कभी भी दो फॉर्मेट में लगातार सीरीज नहीं जीती है। टीम इंडिया के कुछ ही कप्तान है जिनको इंग्लैंड में सीरीज जीतने का मौका मिला। सौरव गांगुली ने टेस्ट सीरीज ड्रॉ की थी तो महेंद्र सिंह धोनी ने 26 साल में पहली बार वनडे सीरीज जीती।

विराट कोहली के पास इतिहास रचने का मौका

टीम इंडिया विराट कोहली की कप्तानी में इंग्लैंड दो अलग-अलग फॉर्मेट में लगातार सीरीज जीतने के बेहद करीब है। इंग्लैंड दौरे पर पहुंची टीम इंडिया ने टी-20 सीरीज जीत से आगाज किया था। वनडे का पहला मैच जीत चुके भारत के पास दूसरा वनडे भी जीतकर तीन मैचों की सीरीज जीतने का मौका है। इस सीरीज जीत के साथ ही कोहली लगातार इंग्लैंड में लगातार दो सीरीज जीतने वाले पहले कप्तान बन जाएंगे।

सौरव गांगुली और महेंद्र सिंह धोनी नहीं कर पाए कारनामा

पिछले 10 साल के इंग्लैंड में भारतीय रिकॉर्ड को देखे तो 2007 में भारत ने टेस्ट सीरीज 1-0 से जीती तो वनडे में 4-0 से हार मिली। 2011 के दौरे पर इंग्लैंड ने वनडे, टेस्ट और टी-20 तीनों में जीत हासिल की। महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में  2014 में भारत को टेस्ट और टी-20 में तो हार मिली थी पर वनडे सीरीज 3-1 से टीम इंडिया ने अपने नाम की थी।