Indian Premier League may shift out of india for third time
Royal Challengers Bangalore (RCB) cheerleaders during a match © AFP

इंडियन प्रीमियर लीग का 11वां सीजन पिछले महीने ही खत्म हुआ है। टूर्नामेंट काफी हिट रहा और रोमांचक मुकाबलों ने 12वें सीजन का इंतजार बढ़ा दिया है। खबरों की मानें तो दर्शकों का यह इंतजार शायद लंबा हो जाए। कम से कम अपने घर पर तो वो अगले सीजन का मजा शायद ना उठा पाएं।

साल 2019 के आईपीएल का आयोजन कब और कहां होगा इस पर माथापच्ची जारी है। दरअसल अगले साल देश में आम चुनाव होना है, दूसरी तरफ इंग्लैंड में आईसीसी विश्व कप का आयोजन भी होगा। अब इन्हीं कारणों से टूर्नामेंट के बाहर शिफ्ट किए जाने के कयास लगाए जा रहे हैं।

अप्रैल की जगह मार्च में हो सकता है आईपीएल

आमतौर पर टूर्नामेंट का आयोजन हर साल अप्रैल के महीने में कराया जाता है लेकिन इस बार इसे एक महीने पहल मार्च में कराया जा सकता है।

तीसरी बार भारत से बाहर हो सकता है आईपीएल

खबरों के मुताबित अगर आईपीएल की तारीख देश में होने वाले आम चुनाव से टकराई को इसे बाहर शिफ्ट किया जा सकता है। इससे पहले साल 2009 में आईपीएल को दक्षिण अफ्रीका आयोजित किया गया था। 2014 में आम चुनाव की वजह से ही कुछ मुकाबलों को यूएई में शिफ्ट करना पड़ा था।

किस वजह से शिफ्ट करना पड़ता है आईपीएल

भारत में आम चुनाव होने पर सबकुछ सुचारु रूप से कराने के लिए सुरक्षा की व्यवस्था में जरूरत होती है। ऐसे में आइपीएल के लिए अलग से सुरक्षा के इंतजाम करना मुश्किल होता है इसी वजह से चुनाव होने पर टूर्नामेंट को बाहर शिफ्ट करना पड़ता है।