IPL 2018, Sunrisers Hyderabad vs Delhi Daredevils, Match 36: Preview and Likely 11′s
SRH VS DD © AFP

श्रेयस अय्यर की कप्‍तानी वाली दिल्‍ली डेयरडेविल्‍स की टीम इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल)-11 के 36वें मुकाबले में शनिवार को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ उतरेगी। मौजूदा सीजन में संघर्ष कर रही दिल्‍ली की टीम के लिए हैदराबाद की मजबूत गेंदबाजी का सामना करना आसान नहीं होगा। एक बार फिर दिल्ली की शुरुआत बेहद खराब रही और उस पर टूर्नामेंट से बाहर होने का खतरा मंडरा रहा है। दिल्ली नौ मैचों में सिर्फ तीन जीत के साथ सातवें स्थान पर है। उसे पांच मैच और खेलने है जो उसके लिए नॉकआउट की तरह होंगे।

IPL 2018: जीत की लय में वापसी को तैयार चेन्नई, बैंगलोर के सामने प्लेऑफ में बने रहने की चुनौती
IPL 2018: जीत की लय में वापसी को तैयार चेन्नई, बैंगलोर के सामने प्लेऑफ में बने रहने की चुनौती

गौतम गंभीर की कप्तानी में कई मैच हारने के बाद दिल्ली ने युवा श्रेयस अय्यर के नेतृत्व में बेहतर प्रदर्शन किया है। गंभीर ने खुद कप्तानी छोड़ दी थी जिसके बाद श्रेयस को जिम्मेदारी दी गई। दिल्ली ने पिछले मैच में राजस्थान रॉयल्स को हराया था। युवा पृथ्वी शॉ, कप्तान अय्यर और रिषभ पंत ने अच्छी बल्लेबाजी की लेकिन कोलिन मुनरो और ग्लेन मैक्सवेल प्रभावित नहीं कर सके हैं। गेंदबाजों में ट्रेंट बोल्ट ने अभी तक 13 विकेट लिए हैं और वह डेथ ओवरों में भी प्रभावी रहे हैं। अवेश खान, लियाम प्लंकेट और शाहबाज नदीम को बेहतर प्रदर्शन करना होगा।

दूसरी ओर सनराइजर्स आठ मैचों में 12 अंक लेकर शीर्ष पर है। टूर्नामेंट में उसकी गेंदबाजी इतनी मजबूत रही है कि कम स्कोर बनाकर भी उसने मैच जीते हैं। मौजूदा आईपीएल में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी आक्रमण सनराइजर्स का ही है जिसके पास सिद्धार्थ कौल, राशिद खान, संदीप शर्मा, बासिल थंपी जैसे गेंदबाजों के अलावा शाकिब अल हसन, मोहम्मद नबी और युसूफ पठान जैसे ऑलराउंडर हैं।

यहां पिछले मैच में सनराइजर्स ने किंग्स इलेवन पंजाब जैसी मजबूत टीम को 19.2 ओवर में 119 रन पर आउट कर दिया था। वहीं 29 अप्रैल को 152 रन बनाने के बाद राजस्थान रॉयल्‍स को 20 ओवर में 140 रन पर ही रोक दिया था। अहम बात यह है कि भुवनेश्वर कुमार के बिना भी सनराइजर्स के गेंदबाजों का प्रदर्शन अच्छा रहा है। कप्तान केन विलियमसन को उम्मीद होगी कि भुवनेश्वर आज का मैच खेल सकेंगे।

बल्लेबाजी में विलियमसन ने मोर्चे से अगुवाई की है हालांकि मनीष पांडे, रिधिमान साहा, दीपक हुड्डा और युसुफ पठान से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद होगी। मुख्य कोच टॉम मूडी ने कहा,‘हम टूर्नामेंट के इस अहम मुकाम पर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना चाहते हैं। अभी भी तीनों विभागों में प्रदर्शन बेहतर हो सकता है।’