Journey of Kolkata Knight Riders in IPL 2018
Dinesh Karthk (File Photo) © AFP

आईपीएल 2018 में दिनेश कार्तिक की कप्‍तानी वाली कोलकाता नाइटराइडर्स की यात्रा भी कुछ कम रोमांचक नहीं रही। शुरुआत से ही कोलकाता की स्थिति टूर्नामेंट में औसत रही। कोलकाता ने अपने पहले सात मुकाबलों में से केवल तीन में जीत दर्ज की। जिसके बाद अगले दो मुकाबले जीतने के बाद मुंबई के हाथों अगले दो मैचों में उसे शिकस्‍त मिली।

मुंबई से 104 रन की करारी हर के बाद की वापसी

ईडन गार्डन में नौ मई को मुंबई ने कोलकाता को 102 रनों के बड़े अंतर से हराया। लगने लगा कि ये टीम इतनी बड़ी हार के बोझ के बाद अब टूर्नामेंट में वापसी नहीं कर पाएगी। सीजन के अंत में एकाएक मुंबई इंडियंस और रॉयल चैलेजर्स बैंगलोर के अच्‍छे प्रदर्शन को देखते हुए कोलकाता की राहें बेहद कठिन नजर आने लगी। अगले तीन मैचों में कोलकाता ने पंजाब, राजस्‍थान और हैदराबाद को हराकर प्‍लेऑफ में अपनी जगह पक्‍की की। एलिमिनेटर में राजस्‍थान को हराने के बाद कोलकाता ने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ क्‍वालिफायर-2 खेला। हालांकि इस मैच में हैदराबाद ने कोलकाता 14 रन से हरा दिया।

कार्तिक, क्रिस लिन ने खेली बेजोड़ पारियां

कोलकाता के लिए इस सीजन में नए कप्‍तान दिनेश कार्तिक का साथ काफी अच्‍छा रहा। कार्तिक ने टीम के लिए 16 मैचों में 49.80 की औसत से 498 रन बनाए। कोलाकाता का ये बल्‍लेबाजी में इस सीजन का सबसे अच्‍छा प्रदर्शन हैं। सलामी बल्‍लेबाज क्रिस लिन भी रन बनाने के मामले में कार्तिक से ज्‍यादा पीछे नहीं रहे। उन्‍होंने भी 16 मैच में 491 रन ठोककर टीम को प्‍लेऑफ तक पहुंचाया। वहीं, अगर गेंदबाजी की बात की जाए तो सुनील नरेन और कुलदीप यादव ने टीम के लिए 17-17 विकेट निकाले। नीतीश राणा ने बल्‍ले और गेंद से ऑलराउंड प्रदर्शन किया। 16 मैंच में 304 रन बनाने के साथ-साथ राणा ने चार विकेट भी निकाले।