© Getty Images
© Getty Images

8 साल बाद अपने वतन में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी का जश्न पाकिस्तान ने जीत के साथ मनाया। पाकिस्तान ने 3 टी20 मैचों की सीरीज के पहले मुकाबले में वर्ल्ड इलेवन को 20 रन से हरा दिया। इस मैच में पाकिस्तान की जीत के हीरो रहे बाबर आजम, जिन्होंने 86 रन बनाकर अपनी टीम को जीत दिलाई और वो मैन ऑफ द मैच भी रहे। पाकिस्तान ने पहले बल्लेबाजी करते हुए वर्ल्ड इलेवन के सामने 198 रनों का बड़ा लक्ष्य रखा, जिसके जवाब में डु प्लेसी की सेना 177 रन ही बना सकी और मैच हार गई। पाकिस्तान की ओर से शादाब खान, रुमान रईस और सोहेल खान ने 2-2 विकेट झटके। इस मैच में पाकिस्तान की जीत के साथ ही 5 बड़ी बातें देखने को मिली, आइए डालते हैं उन पर एक नजर:

1. बाबर आजम की सबसे बड़ी पारी- पाकिस्तान के स्टार बल्लेबाज बाबर आजम ने लाहौर के गद्दाफी स्टेडियम में 52 गेंद में 86 रन की पारी खेली। ये उनके टी20 करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी है। बाबर आजम ने अपनी पारी में 10 चौके और 2 छक्के लगाए और उनका स्ट्राइक रेट 165.38 रहा।

2. वर्ल्ड इलेवन की पांचवीं हार- वर्ल्ड इलेवन की ये किसी भी अंतर्राष्ट्रीय मैच में लगातार 5वीं हार है। वर्ल्ड इलेवन ने अबतक कुल 6 मैच खेले हैं इसमें उसे सिर्फ पहले मैच में एशिया इलेवन के साथ जीत मिली। इसके बाद से वर्ल्ड इलेवन मैच नहीं जीत पाई है और वो पाकिस्तान से टी20 मैच हारने से पहले ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 3 वनडे और एक टेस्ट मैच भी हारी है। 3. पाकिस्तान का जीत का ‘चौका’- पाकिस्तान ने अपने घर पर खेले अबतक सभी टी20 मैच जीते हैं। पाकिस्तान ने अपनी घरेलू सरजमीं पर कुल 4 मैचों में 4 जीत दर्ज की है। पाकिस्तान से पहले सिर्फ ऑस्ट्रेलियाई टीम घर पर खेले अपने पहले 4 वनडे जीतने का कारनामा कर पाई है।


4. अफरीदी से आगे निकले शोएब मलिक- पाकिस्तान के ऑलराउंडर शोएब मलिक अंतर्राष्ट्रीय टी20 क्रिकेट में सबसे ज्यादा जीत दर्ज करने वाले खिलाड़ी बन गए हैं। इससे पहले ये रिकॉर्ड शाहिद अफरीदी के नाम था, जो कुल 56 अंतर्राष्ट्रीय टी20 मैच जीते थे। पहले टी20 मैच में पाकिस्तान का दबदबा, वर्ल्ड इलेवन को 20 रनों से धोया

5. सबसे बड़ा स्कोर!: वर्ल्ड इलेवन की ओर से सबसे ज्यादा रन डैरेन सैमी(29*) ने बनाए। जबकि वर्ल्ड इलेवन का कुल स्कोर 177/7 पर रहा। ये अंतर्राष्ट्रीय टी20 मैच में सबसे बड़ा स्कोर है जब टीम के किसी भी बल्लेबाज ने 30 रन भी ना बनाए हों। इससे पहले ये रिकॉर्ड पाकिस्तान के नाम था जिसने 2015 में इंग्लैंड के खिलाफ 169 रन बनाए थे और उस मैच में सबसे बड़ा निजी स्कोर 28 रन था।