Sixth time in IPL top two teams of season will fight for trophy
Chennai-Super-Kings © IANS

आज इंडियन प्रीमियर लीग का फाइनल मुकाबला खेला जाना है। चेन्नई सुपर किंग्स और सनराइजर्स हैदराबाद की टीम 2018 की ट्रॉफी अपने नाम करने के लिए आमने सामने होगी। आईपीएल के 11वें फाइनल में से यह छठा मौका होगा जब टेबल की टॉप टीमें फाइनल में खेलेंगी।

साल 2011 में पहली बार लीग स्टेज में टॉप पर रही दो टीमों के बीच मुकाबला देखने को मिला था। यह फाइनल रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु और चेन्नई सुपर किंग्‍स के बीच खेला गया था। कमाल की बात यह है कि इस मुकाबले में भी महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली टीम  चेन्नई मौजूद थी।

आईपीएल के इतिहास में 5 बार ऐसा हो चुका है जब टेबल की टॉप दो टीमें फाइनल में खेली हों। इन फाइनल मुकाबलों में चार बार धोनी चेन्नई की टीम की तरफ से खेल थे जबकि पिछले सीजन फाइनल खेलने वाली पुणे सुपर जाइंट्स का हिस्सा थे।

पांच बार ग्रुप स्टेज की टॉप टीमों के बीच हुआ है मुकाबला

2011: रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु बनाम चेन्नई सुपर किंग्स

2013: चेन्नई सुपर किंग्स बनाम मुंबई इंडियंस

2014: किंग्स इलेवन पंजाब बनाम कोलकाता नाइट राइडर्स

2015: चेन्नई सुपर किंग्स बनाम मुंबई इंडियंस

2017: मुंबई इंडियंस बनाम राइजिंग पुणे सुपरजायंट

2018: सनराइजर्स हैदराबाद बनाम चेन्नई सुपर किंग्स