This how Sachin Tendulkar and Virender Sehwag started open for India
Sachin Tendulkar and Virender Sehwag © Getty Images

वीरेंद्र सहवाग और सचिन तेंदुलकर की जोड़ी विश्व क्रिकेट की सबसे बेहतरीन और आक्रमक ओपनिंग जोड़ी मानी जाती थी। भारत के लिए सचिन और सहवाग की ओपनिंग जोड़ी ने कई शतकीय साझेदारी निभाई। सहवाग ने एक शो के दौरान बताया कि उन दोनों की इस जोड़ी के टूटने की वजह सौरव गांगुली और कोच जॉन राइट थे।

सहवाग ने विक्रम साठे के शो ‘वॉट का डक’ के दौरान बातें करते हुए अपनी और सचिन की ओपनिंग जोड़ी के बारे में बताया। सहवाग ने मजाकिया अंदाज में बताया कि सौरव गांगुली और तब के कोच जॉन राइट सास-बहू जैसे थे। उन्होंने कहा सचिन के साथ बल्लेबाजी करना सबसे बेहतरीन अनुभव था। दोनों की जोड़ी टूटी थी तो इसके पीछे शायद कप्तान गांगुली ही रहे होंगे। सास-बहू के खुश होने पर दोनों को दोबारा साथ बल्लेबाजी करने का मौका मिला था।

सहवाग ने बताया कैसे मिला साथ ओपनिंग का मौका

सचिन तेंदुलकर और सहवाग की जोड़ी विश्वकप 2003 में साथ आई थी जहां से उन्होंने शानदार खेल दिखाया। सहवाग ने बताया, कैसे कोच जॉन राइट ने पूरी टीम को बुलाकर ओपनिंग जोड़ी के लिए वोट करने कहा था। टीम को सहवाग-सचिन और सचिन गांगुली की जोड़ी में से एक को चुनना था। 15 में से 14 लोगों ने सचिन-सहवाग की जोड़ी के लिए वोट किया था। मजाक करते हुए वीरू ने यह भी कहा कि उनको पता है सचिन और गांगुली की जोड़ा के लिए वोट गांगुली ने ही डाला होगा।

सचिन और सहवाग की ओपनिंग जोड़ी रही हिट
दोनों ने साथ मिलकर कुल 93 मैचों में भारत के लिए ओपनिंग की थी। इस दौरान 42.13 की औसत से कुल 3919 रन बनाए थे। इस जोड़ी ने कुल 12 बार शतकीय पारी साझेदारी निभाई जबकि 18 बार दोनों 50 रन से ज्यादा की पार्टनरशिप की।