Virat kohli ,MS Dhoni can solve team India’s number 4 problem
MS Dhoni and Virat Kohli © Getty Images

भारतीय क्रिकेट टीम के लिए नंबर चार एक बड़ी मुसीबत बनकर सामने खड़ी है। टीम इंडिया में चौथे नंबर पर बल्लेबाजी में कोई भी कामयाब नहीं हो पाया है। युवराज सिंह से लेकर केएल राहुल तक कई बल्लेबाजों को इस स्थान पर आजमाया जा चुका है।

इंग्लैंड के खिलाफ लीड्स की 'अग्निपरीक्षा' में उतरेगी टीम इंडिया
इंग्लैंड के खिलाफ लीड्स की 'अग्निपरीक्षा' में उतरेगी टीम इंडिया

किसी भी टीम में नंबर चार का स्थान सबसे अहम माना जाता है। वनडे क्रिकेट में पारी को संवारने का जिम्मा अमूमन चौथे नंबर पर आने वाले बल्लेबाज के जिम्मे ही होता है। युवराज सिंह, महेंद्र सिंह धोनी, अजिंक्य रहाणे, मनीष पांडे और विराट कोहली इस पोजिशन पर खेल चुके हैं। चौथ नंबर पर सिर्फ कोहली और धोनी का औसत 50 से ज्यादा है। लिहाजा ये दोनों ही इस मुश्किल से टीम को निकाल सकते हैं।

युवराज सिंह

इस स्थान पर सबसे ज्यादा 108 मैच युवराज ने खेले हैं जिसमें 35.20 की औसत से 3415 रन बनाए हैं। चौथे नंबर पर खेलते हुए युवी ने 6 शतक लगाए हैं लेकिन इस समय वह खराब फॉर्म की वजह से टीम से बाहर हैं।

विराट कोहली

विराट ने चौथे नंबर पर कुल 37 मुकाबले में बल्लेबाजी की है और 58.13 की शानदार औसत से 1744 रन बनाए हैं। इस स्थान पर खेलते हुए कोहली ने कुल 7 सैंकड़ा जमाया है। फिलहाल वह तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करते हैं जहां उन्होंने 28 शतक जमाए हैं और उनका औसत 61.41 का है।

महेंद्र सिंह धोनी

चौथे नंबर पर धोनी को भी आजमाया जा चुका है। 27 मैचों में नंबर चार पर उतरने वाले धोनी ने 55 की औसत से 1295 रन बनाए हैं जिसमें एक शतक भी है। उनको इस स्थान पर ना उतारने की वजह टीम में उनको बतौर फिनिशर देखा जाता है।

अजिंक्य रहाणे

रहाणे को चौथे नंबर पर 25 मैचों में खेलने का मौका दिया गया जहां उन्होंने 36 के साधारण औसत से 843 रन बनाए। फिलहाल उनको वनडे टीम में मौका नहीं दिया गया है।

मनीष पांडे

कुल 7 मैचों में मनीष पांडे नंबर चार पर उतारा जा चुका है जहां उनके नाम महज 183 रन हैं लिहाजा वह भी टीम की इस मुश्किल का हल नहीं बन पाए।