Virat Kohli’s miserable run as RCB captain continues
Virat Kohli © IANS

आईपीएल की टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की कप्तानी करने वाले विराट कोहली भले ही बल्ले से कामयाब हो लेकिन कप्तानी में वह नाकाम ही रहे हैं। इस सीजन अब तक खेले 10 मुकाबलों में से 7 में टीम को हार मिली है। पिछले 5 सीजन में टीम की कप्तानी कर चुके कोहली के हाथ आज तक आईपीएल ट्रॉफी नहीं लगी है।

कभी टीम में नहीं मिलती थी जगह, आज है IPL का चैंपियन कप्तान
कभी टीम में नहीं मिलती थी जगह, आज है IPL का चैंपियन कप्तान

विराट कोहली को चेज मास्टर माना जाता है। वह दूसरी पारी में बल्लेबाजी करते हुए रनों का पीछा करते हुए मैच जीतने के लिए जाने जाते हैं। इस आईपीएल कोहली की यह कला भी काम नहीं आ रही है। अब तक कोहली मुंबई इंडियंस, राजस्थान रॉयल्स और सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ रन का पीछा करने में फेल रहे।

IPL-11 में तीन रन चेज में पिछड़े कोहली

आईपीएल के 11वें मुकाबले में राजस्थान के खिलाफ कोहली के सामने 217 रन का लक्ष्य था मगर 57 रन की पारी खेल वो आउट हो गए। 14वें मैच में मुंबई के खिलाफ 213 रन का पीछा करते हुए उन्होंने 92 रन की नाबाद पारी खेली पर जीत नहीं दिला पाए। वहीं हैदराबाद के साथ के मुकाबले में तो 146 रन जैसे छोटे स्कोर तक को हासिल करने में नाकाम रहे। कोहली ने इस मैच में 39 रन बनाकर आउट हो गए। अब तक इस सीजन में विराट ने 10 मुकााबलों में कुल 396 रन बनाए हैं और सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की लिस्ट में चौथे नंबर पर काबिज हैं।

आईपीएल में कोहली का बल्ले से धमाकेदार प्रदर्शन

साल 2013 में खेले 16 मैचों में 45.28 की औसत से 634 रन जिसमें 6 अर्धशतक

साल 2014 में विराट कोहली को बल्ला खामोश था और वह टॉप 10 की बल्लेबाजों लिस्ट से बाहर थे।

साल 2015 में खेले 16 मैच 45.90 की औसत से 505 रन बनाए जिसमें 3 अर्धशतक

साल 2016 में खेले 16 मैचों में 81.08 की औसत से 973 रन बनाए जिसमें चार शतक 7 अर्धशतक

साल 2013 में बनाए गए रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के कप्तान

विराट कोहली को साल 2013 में बैंगलोर टीम का कप्तान बनाया गया था। तब से अब तक टीम का प्रदर्शन कैसा भी रहा हो लेकिन उसने आज तक एक बार भी आईपीएल की ट्रॉफी नहीं जीती है। टीम ने 2015 में तीसरे जबकि 2016 में दूसरे स्थान से संतोष करना पड़ा था।