रोहित शर्मा ने श्रीलंका के खिलाफ आतिशी पारी खेली थी © Getty Images
रोहित शर्मा ने श्रीलंका के खिलाफ आतिशी पारी खेली थी © Getty Images

साल था था 2014 और तारीख थी 13 नवंबर। ये साल और तारीख भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के लिए ऐतिहासिक साबित हुई। रोहित शर्मा ने अपना नाम इतिहास के सुनहरे पन्नों में दर्ज करा लिया था और आज ही दिन यानी 13 नवंबर को रोहित ने रचा था वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा स्कोर बनाने का कीर्तिमान। रोहित शर्मा ने श्रीलंका के खिलाफ अपने बल्ले से आग उगलते हुए वनडे क्रिकेट में अपना और दुनिया के किसी भी बल्लेबाज द्वारा बनाया गया सबसे बड़ा स्कोर बना डाला। आखिर क्या हुआ था उस मैच में?, आखिर कौन सी विरोधी टीम आ गई थी रोहित के रडार पर? आइए जानते हैं उस ऐतिहासिक मैच के बारे में।

भारत ने किया पहले बल्लेबाजी का फैसला: पांच मैचों की वनडे सीरीज के लिए श्रीलंका की टीम भारत दौरे पर थी। यह मैच कोलकाता में खेला जाने वाला सीरीज का चौथा मैच था। इससे पहले खेले गए तीनों ही मैचों को भारत ने जीत लिए थे और सीरीज में पहले ही 3-0 की अजेय बढ़त बना ली थी। ईडेन गार्डन में खेले गए इस मुकाबले में भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। सलामी बल्लेबाज के तौर पर अजिंक्य रहाणे और रोहित शर्मा की जोड़ी मैदान पर उतरी। रहाणे ने कुलसेकरा के पहली ही गेंद पर चौका जड़ दिया और अपने इरादे जाहिर कर दिए।

कुलसेकरा के उस ओवर में रहाणे ने कुल तीन बार गेंद को सीमारेखा के बाहर भेजा और पहले ओवर में कुल 14 रन जोड़े। रोहित शर्मा और रहाणे ने टीम को सधी हुई शुरुआत दी। पांचवें ओवर में एरंगा के हाथों में गेंद थी और रोहित शर्मा के पास स्ट्रॅाइक। तीसरी गेंद पर रोहित गेंद को दिशा देना चाहते थे लेकिन बल्ले का बाहरी किनारा लेते हुए गेंद थर्ड मैन पर खड़े फील्डर के हाथों में चली गई लेकिन फील्डर ने कैच को छोड़ दिया। रोहित को 5 रन के निजि स्कोर पर जीवनदान मिल चुका था।  भारत बनाम इंग्लैंड, पहले टेस्ट का स्कोरकार्ड जानने के लिए क्लिक करें…

रोहित रहाणे जब क्रीज पर जमते नजर आ रहे थे तभी एंजेला मैथ्यूज ने रहाणे को LBW आउट कर पवेलियन भेज दिया। रहाणे ने आउट होने से पहले 24 गेंदों में 28 रनों की पारी खेली थी और अपनी पारी में 24 रन सिर्फ चौकों से ही बनाए थे। रहाणे जब आउट हुए तो भारत का स्कोर उस समय 40 रन था। इसके बाद क्रीज पर बल्लेबाजी के लिए अंबाती रायडू। रायडू अभी क्रीज पर नजरें जमाने की कोशिश ही कर रहे थे कि एरंगा की गेंद पर रायडू की गिल्लियां बिखर गईं और वह मात्र 8 रन बनाकर आउट हो गए।

रोहित ने ठोका अर्धशतक: रायडू का विकेट गिरने के बाद भारत का स्कोर 59 पर 2 विकेट हो गया था। इसके बाद मैदान पर रोहित का साथ देने आए उस मैच में भारत की कप्तानी कर रहे विराट कोहली। विराट कोहली और रोहित शर्मा ने पारी को आगे बढ़ाया और टीम पर बन रहे दबाव को हटाने की कोशिश में लग गए। दोनों बल्लेबाजों ने एक-एक रन लेकर पारी को आगे बढ़ाते रहे। इसी बीच मैच के 23वें ओवर की पहली गेंद पर रोहित शर्मा ने अपना अर्धशतक पूरा किया। रोहित ने 72 गेंदों पर पांच चौकों की मदद से अपना अर्धशतक पूरा किया था।

रोहित शर्मा ने ठोका शतक: इसके बाद भारत ने 30वें ओवर में पावरप्ले लिया और पावरप्ले का पहला ओवर कुलसेकरा फेंकने आए। कुलसेकरा के ओवर में भारत ने 16 रन जुटाए। रोहित ने पावरप्ले के पहले ही ओवर में दो चौके और एक गगनचुंबी छक्का लगाया साथ ही रोहित शर्मा के बल्ले से निकलने वाला यह पहला छक्का था। भारत ने इस बात के संकेत भी दे दिए थे कि टीम पावरप्ले में रन गति में इजाफा करेगी। हालांकि मेंडिस के अगले ओवर में भारत सिर्फ 8 रन ही जुटा सका। रोहित शर्मा 99 रनों पर पहुंच गए थे और अपने शतक से मात्र 1 रन की दूरी पर थे। 32वें ओवर में पहली ही गेंद पर एक रन लेने के साथ ही रोहित ने अपना शतक पूरा कर लिया। खचा-खच भरे ईडेन गार्डन में दर्शकों ने खड़े होकर रोहित के सम्मान में तालियां बजाईं।

 

रोहित-विराट ने की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी: इसके बाद 33वें ओवर में रोहित ने एक छक्का और एक चौका लगाया और ओवर में कुल 12 रन जोड़े। रोहित शर्मा अब किसी तूफान की तरह नजर आ रहे थे तो श्रीलंका पर टूटने को बेताब दिख रहे थे। 34वें और 35वें ओवर में रोहित शर्मा ने दो-दो चौके लगाए। 36वें ओवर में रोहित ने फिर से एक छक्का और एक चौका जड़कर टीम के स्कोर को 220 पहुंचा दिया। मैच के 37वें ओवर में विराट कोहली ने भी अपना अर्धशतक पूरा किया।

38वें ओवर में विराट कोहली ने मेंडिस के ओवर में दो चौके लगा दिए। 38वें ओवर के अंत तक रोहित 145 पर चुके थे। 39वें ओवर की पहली ही गेंद पर रोहित शर्मा ने शानदार चौका जड़ दिया और अगली ही गेंद पर एक रन लेकर अपने 150 रन पूरे कर लिए। भारत बहुत ही मजबूत नजर आ रहा था कि तभी कोहली और रोहित के बीच तालमेल में कमी नजर आई जिसका खामियाजा कोहली को रन आउट होकर भुगतना पड़ा। कोहली 66 रन बनाकर रन आउट हो गए और भारत का स्कोर 261 रन पर तीन विकेट हो गया था।

बल्लेबाजी के लिए क्रीज पर उतरे सुरेश रैना। रैना ने 40वें ओवर में तीसरी गेंद पर चौका और चौथी गेंद पर छक्का जड़कर अपने इरादे जाहिर कर दिए। लेकिन 41वें ओवर में गेंद को बाउंड्री के बाहर भेजने के चक्कर में रैना कैच आउट हो गए। रैना ने अपनी पारी में 5 गेंदों में एक चौके और एक छक्के की मदद से 11 रन बनाए। रैना के आउट होने से रोहित पर कोई फर्क नहीं पड़ा और अगली ही गेंद में रोहित ने छक्का जड़ दिया। इसके बाद 44वें ओवर में रोहित शर्मा ने 4 चौके जड़ दिए और भारत का स्कोर 300 के पार पहुंचा दिया।

रोहित ने बनाया विश्व रिकॉर्ड: रोहित शर्मा 197 रनों पर थे, कुलसेकरा के हाथों में गेंद थी और तीसरी गेंद पर गेंद को बाउंड्री के बाहर भेजते ही रोहित ने शिखर को छू लिया। रोहित शर्मा ने अपने करियर में दूसरी बार दोहरा शतक जड़ने वाले बल्लेबाज बन गए थे। वनडे में दो बार दोहरा शतक लगाने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बन गए थे। ईडेन गार्डन पर मौजूद हजारों दर्शकों ने रोहित के सजदे में सर झुका दिया।

रोहित शर्मा ने इसके बाद ओवर में दो और चौके जड़े। मैच के 47वें ओवर में जैसे रनों की बाढ़ आ गई थी। एरंगा की पहली ही गेंद पर रोहिते ने चौका जड़ दिया। दूसरी गेंद पर रोहित ने शानदार स्ट्रोक खेला और गेंद को छह रनों के लिए भेज दिया साथ ही यह गेंद नो थी जिसका मतलब था कि रोहित को अगली गेंद फ्री हिट मिलने वाली थी। रोहित ने फ्री हिट पर एक बार फिर से बेहतरीन शॉट खेला और लगातार दूसरा छक्का जड़ दिया। इसी छक्के के साथ ही रोहित ने अपने वनडे करियर का सर्वाधिक स्कोर छू लिया। इस ओवर में रोहित ने एक चौका और लगाया और ओवर में कुल 23 रन जोड़े।

264 रन पर आउट हुए रोहित: 48वें ओवर में रोहित फिर आक्रामक दिखे और ओवर में तीन चौके और एक छक्का जड़ा। वहीं 49वें ओवर में रोहित ने एक चौका, एक छक्का जड़कर टीम के स्कोर को 400 के पार पहुंचा दिया। इसी के साथ ही रोहित ने अपनी 250 रन भी पूरे कर लिए थे। पारी के अंतिम ओवर की अंतिम गेंद पर रोहित शर्मा 173 गेंदों पर 264 रन बनाकर आउट हो गए। रोहित ने अपनी पारी में 33 चौके और 9 छक्के लगाए। रोहित की बेहतरीन पारी की बदौलत भारत ने श्रीलंका के सामने 405 रनों का लक्ष्य रखा था।

भारत ने जीता मैच: जवाब में भारतीय गेंदबाजों ने बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए श्रीलंका की टीम को 43.1 ओवर में समेट दिया। भारत ने साथ ही पांच मैचों की सीरीज में 4-0 की अजेय बढ़त बना ली थी। रोहित शर्मा की यादगार पारी के लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच का खिताब दिया गया। रोहित शर्मा ने उस शिखर को छू लिया था जहां पहुंचना हर बल्लेबाज का सपना होता है। रोहित की इस पारी ने उन्हें भारतीय टीम के सबसे बड़े मैच विनर के रूप में स्थापित कर दिया था। फिलहाल रोहित शर्मा चोटिल हैं और उन्होंने लंदन में अपनी सफल सर्जरी कराई है।