World Cup 1999: Greatest ODI of all time played on this day
Allan Donald run out in World cup 1999 © Getty Images

साल 1999 विश्‍वकप चल रहा था। पहला सेमीफाइनल पाकिस्‍तान और न्‍यूजीलैंड के बीच खेला गया। पाकिस्‍तान ने ये मैच जीतकर फाइनल में अपनी जगह पक्‍की कर ली थी। तभी 17 जून 1999 का वो दिन आया, जिसे आज भी वनडे क्रिकेट के इतिहास में ग्रेटेस्‍ट मैच यानी सबसे शानदार मैच माना जाता है। आज से ठीक 19 साल पहले विश्‍वकप का दूसरा सेमीफाइनल ऑस्‍ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेला गया।

बराबरी के स्‍कोर पर खत्‍म हुआ मैच

ये मैच ड्रा रहा था, लेकिन फिर भी ऑस्‍ट्रेलिया को फाइनल में पाकिस्‍तान के साथ खेलने का मौका मिला। ऑस्‍ट्रेलिया की टीम की कमान स्‍टीव वॉ के हाथों में थी, जबकि दक्षिण अफ्रीका की टीम हैंसी क्रोन्‍ये की कप्‍तानी में खेलने के लिए उतरी। ऑस्‍ट्रेलिया की टीम पहले बल्‍लेबाजी करते हुए 213 रन पर ऑलआउट हो गई। लगा दक्षिण अफ्रीका इस साधारण से स्‍कोर को आसानी से बना लेगी।

दक्षिण अफ्रीका की शुरुआत भी अच्‍छी नहीं रही। जैक कालिस के अर्धशतक और जोंटी रोड्स की 43 रन की पारी के अलावा कोई खिलाड़ी बड़ा स्‍कोर नहीं बना पाया। हालांकि अंत में लांस क्‍लूजनर ने 16 गेंद पर 31 रन बनाकर मैच को काफी करीब ला दिया।

आखिरी विकेट के लिए क्‍लूजनर, एलन डोनाल्ड के साथ मैदान पर मौजूद थे। छह गेंद पर दक्षिण अफ्रीका को जीत के लिए नौ रन की दरकार थी। दक्षिण अफ्रीका का स्‍कोर 205 रन था, जबकि जीत के लिए 214 रनों की दरकार थी। क्‍लूजनर ने तेजी से रन बनाए और आखिरी ओवर में पहली तीन गेंद पर ही 213 रन तक पहुंचाकर स्‍कोर लेवल कर दिया। लगा मानो ये मैच दक्षिण अफ्रीका की मुट्ठी में आ गया हो, लेकिन ऐसा हुआ नहीं।

मजबूत स्थिति में आकर भी गंवाया फाइनल में पहुंचने का चांस

डेमियन फ्लेमिंग के ओवर की चौथी गेंद पर क्‍लूजनर ने स्‍ट्रेट ड्राइव लगाया और वो एक रन के लिए भागने लगे। नॉन स्‍ट्राइकर एंड पर मौजूद डोनाल्‍ड इस रन को लेने के जरा भी इच्‍छुक नहीं थी। उन्‍होंने ये देखा भी नहीं की क्‍लूजनर आधी क्रीज से भी आगे रन लेने के लिए आ चुके हैं। काफी देरी से वो रन लेने के लिए भागे, लेकिन जब तक काफी देर हो चुकी थी। पहले स्‍टीव वॉ ने गेंद पकड़कर फ्लेमिंग को दी। फ्लेमिंग ने बिना देरी करे विकेटकीपर ऐडम गिलक्रिस्ट को गेंद थमा दी। उन्‍होंने तुरंत ही डोनाल्‍ड को रनआउट कर दिया।

इस तरह दोनों टीमों ने मैच में 213 रन बनाए और ये मैच बराबरी पर खत्‍म हुआ। हालांकि नेट रनरेट के आधार पर ऑस्‍ट्रेलिया को फाइनल में जगह मिली और दक्षिण अफ्रीका का सफर यहीं खत्‍म हो गया।