Ajinkya Rahane says Visualising Test match situations in practice will help Afghanistan
Ajinkya Rahane © AFP

अफगानिस्तान के खिलाफ खेले गए एक मात्र टेस्ट से पहले भारतीय कप्तान अजिंक्य रहाणे ने जो बात कही थी टीम उसपर खरी। रहाणे ने मैच से पहले कहा था टीम मैदान पर अफगानिस्तान के खिलाफ कोई दया नहीं दिखाने वाली। गलती से भी वह अफगानी टीम को हल्के में नहीं लेगी। भारत ने महज दो दिन के भीतर ही अफगानिस्तान ढेर करते हुए मुकाबला पारी और 262 रन से अपने नाम कर लिया।

भारतीय कप्तान अजिंक्य रहाणे का मानना है कि अफगानिस्तान को पांच दिवसीय प्रारूप की तैयारी के लिये अभ्यास के दौरान टेस्ट मैच के हालात सोचकर खेलना होगा ।

रहाणे ने कहा, ‘‘अफगानिस्तान के लिये यह शुरुआत है। उनकी गेंदबाजी इतनी धारदार है कि वे किसी भी टीम की धज्जियां उड़ा सकते हैं। अभी वे सीख रहे हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘वे जितना ज्यादा खेलेंगे, उतना ही सीखेंगे। यह उनके लिये शुरुआत भर है। आप उनको दोष नहीं दे सकते। उन्होंने अपनी ओर से पूरी कोशिश की। पहली पारी के बाद वे विकेट पर टिकने की कोशिश कर रहे थे लेकिन यह आगाज भर है।’’

रहाणे ने कहा, ‘‘टेस्ट क्रिकेट रवैये और सब्र का इम्तिहान है। यदि इनके दो तीन खिलाड़ी लंबे समय तक टिक गए तो किसी भी टेस्ट टीम को हरा सकते हैं।’’

रहाणे ने मैच के बाद पूरी अफगानिस्तान टीम को फोटो के लिये बुलाया और विरोधी कप्तान असगर स्टेनिकजइ को विजेता की ट्राफी थामने की भी पेशकश की। उन्होंने कहा, ‘‘हार और जीत खेल का हिस्सा है। आपका रवैया हमेशा जीत का होना चाहिये लेकिन मैदान पर आप एक दूसरे का सम्मान करना भी सीखते हैं। मैंने अफगानिस्तान के खिलाफ खेलकर बहुत कुछ सीखा।’’