Alyssa Healy irked by Sanjay Manjrekar for dragging into controversy
पत्‍नी एलिसा हेली के साथ मेचेल स्‍टार्क © ट्विटर

क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया ने स्‍टीवन स्मिथ और डेविड वार्नर पर बॉल टेंपरिंग में शामिल होने के लिए एक साल का बैन लगा दिया है। साथ ही बॉल को खराब करते हुए कैमरे में कैद हुए कैमरून बैनक्रॉफ्ट को नौ महीने अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट से बैन कर दिया गया है। हर जगह इन खिलाड़ियों को आलोचना का सामना करना पड़ा रहा है। यूं कहा जाए कि क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया अपने अब तक के सबसे बुरे दौर से गुजर रहा है तो ये गलत नहीं होगा। कैमरे के सामने स्मिथ और वार्नर की फूट-फूट कर रोते हुए माफी मांगने की तस्‍वीरें सभी ने देखी होंगी। ये खिलाड़ी अब इस विवाद से उपर उठकर दोबारा नए सिरे से आगे बढ़ना चाहते हैं। इस बीच भारत के एक पूर्व खिलाड़ी ने ऑस्‍ट्रेलिया की महिला टीम पर ऐसा कमेंट किया जिसे ऑस्‍ट्रेलियाई तेज गेंदबाज मिशेल स्‍टार्क की पत्‍नी एलिसा हेली बुरी तरह नाराज हो गई।

स्‍टार्क ऑस्‍ट्रेलिया की टीम में तेज गेंदबाज हैं तो उनकी पत्‍नी एलिसा हेली क्रिक्रट ऑस्‍ट्रेलिया में महिला टीम में बतौर बल्‍लेबाज खेलती हैं। हाल ही में भारत के खिलाफ भारत में ही खेली गई तीन मैचों की वनडे सीरीज में हेली ने शानदार शतक बनाया था। भारतीय महिला टीम इस सीरीज में एक भी बैच नहीं जीत पाई। भारतीय टीम के पूर्व बल्‍लेबाज संजय मांजरेकर ने बॉल टेंपरिंग विवाद को महिला टीम के बर्ताव से जोड़ते हुए ट्वीट किया, ” पिछले साल भारतीय महिला टीम की बल्‍लेबाज हरमनप्रीत कौर ने अपने करियर की सर्वश्रेष्‍ठ 171 रनों की पारी इंग्‍लैंड में ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ खेली थी। इस पारी के बाद हरमनप्रीत कौर को किसी भी ऑस्‍ट्रेलिया की महिला खिलाड़ी ने मैदान से पहले जाने का मौका नहीं दिया। यहां तक की ऑस्‍ट्रेलिया की महिला खिलाड़ियों ने इस शानदार पारी के लिए उनकी प्रशंसा तक नहीं की।”

मांजरेकर ने लिखा, ” भारत ये मैच जीत गया था। ऑस्‍ट्रेलिया की महिला खिलाड़ियों का बर्ताव ऐसा था कि हार के बाद उनका सम्‍मान कम हो गया है और वो अगले मैच में हमे सबक सिखाने के लिए आने का इंतजार तक नहीं कर सकते।” एलिसा हेली ने इस ट्विट पर अपना जवाब देते हुए लिखा, ” ये सच में मुझे पागल करने वाला ट्वीट है। ये पूरी तरह से अनुचित और एक दम गलत समय पर उठाया गया मुद्दा है।” हेली ने लिखा, ” आप हमारा खेल भी नीचे गिराने का प्रयास क्‍यों कर रहे हैं। यहां इस तरह से बात करने से अच्‍छा होता कि मैं आपसे इस मसले पर निजी तौर पर खुशी-खुशी बात करती।”