BCCI asked to order probe into match fixing allegation against Mohammed Sham
Mohammad Shami © Getty Images

पत्‍नी से घरेलू विवाद के बाद चर्चा में आए भारतीय टीम के तेज गेंदबाज मोहम्‍मद शमी की मुश्किलें बढ़ती ही जा रहे है। पत्‍नी की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर कोलकाता पुलिस पहले ही शमी का मोबाइल फोन जब्‍त कर चुकी है। अब बीसीसीआई ने एक कदम और आगे बढ़ते ही शमी पर पत्‍नी द्वारा लगाए गए मैच फिक्सिंग के आरोपों की भी जांच शुरू कर दी है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्‍त प्रशासकों की कमेटी सीओए ने बीसीसीआई को पत्र लिखकर शमी पर लगे आरोपों की जांच करने के निर्देश दिए हैं। सीओए के चीफ विनोद राय ने बीसीसीआई की एंटी करप्‍शन यूनिट को सात दिन के भीतर जांच पूरी कर रिपोर्ट सौंपने के निर्देश दिए हैं।

इस खिलाड़ी को घड़ी गिफ्ट करना चाहते हैं विराट कोहली, बताई बड़ी दिलचस्‍प वजह
इस खिलाड़ी को घड़ी गिफ्ट करना चाहते हैं विराट कोहली, बताई बड़ी दिलचस्‍प वजह

पत्‍नी हसीन जहां ने मोहम्‍मद शमी और उनके परिवार पर मारपीट और जान से मारने की कोशिश करने का आरोप लगाया था। पति के खिलाफ पत्रकारों से बातचीत के दौरान हसीन जहां ने कहा था कि शमी मैच फिक्‍स करने के लिए मोटी रकम लेता है। ये रकम उनके पास कैश के रूप में आती है। पत्‍नी का कहना था कि शमी ने इंग्‍लैंड में रहने वाले मोहम्‍मद भाई के साथ मिलकर मैच फिक्सिंग की है। मैच फिक्सिंग के लिए उसे रकम पाकिस्‍तान में रहने वाली महिला अलिश्‍बा के माध्‍यम से पहुंचाई गई थी।

डीएनए अखबार के सूत्रों के मुताबिक सीओए ने फिक्सिंग के आरोपों को लेकर दिल्‍ली पुलिस के एक पूर्व कमिश्‍नर से बात भी की है। कमिश्‍नर से शमी और उनकी पत्‍नी के बीच फोन पर बातचीत की ऑडियो की जांच करने के लिए कहा गया है। जांच का फोकस मोहम्‍मद भाई और पाकिस्‍तानी महिला अलिश्‍बा से शमी के लिंक काा पता लगाना और रुपयों के लेनदेन की ट्रांजेक्‍शन का पता लगाना है। आरोपों के बाद से चारों तरफ से घिर चुके मोहम्‍मद शमी पहले ही ये कह चुके हैं कि वो शांतिपूर्वक पत्‍नी के साथ बैठकर इस झगड़े का निपटारा चाहते हैं। उन्‍होंने कोलकाता जाकर पत्‍नी और उनके परिवार से बातचीत करने की बात भी की है।