ब्रैंडन टेलर  © Getty Images
ब्रैंडन टेलर © Getty Images

जिम्बाब्वे के पूर्व कप्तान ब्रैंडन टेलर ने राष्ट्रीय टीम में वापसी का ऐलान कर दिया है। टेलर ने जिम्बाब्वे क्रिकेट के साथ नया करार किया है जिसके बाद वह राष्ट्रीय टीम में चुने जा सकते हैं। तीन बार विश्व कप में जिम्बाब्वे की कप्तानी करने वाले टेलर ने साल 2015 विश्व कप टूर्नामेंट में भारत के खिलाफ मैच के बाद जिम्बाब्वे क्रिकेट को अलविदा कह दिया था। अपने आखिरी मैच में टेलर ने 138 रनों की शानदार पारी खेली थी, हालांकि भारत वह मैच 6 विकेट से जीत गया था। जिम्बाब्वे क्रिकेट ने एक आधिकारिक बयान जारी कर टेलर की राष्ट्रीय टीम में वापसी की घोषणा की है।

इस बयान में कहा गया, “जिम्बाब्वे क्रिकेट को ये ऐलान करते हुए काफी खुशी हो रही है कि इंग्लिश काउंटी टीम नॉटिंघमशायर के साथ करार खत्म होने के साथ ही ब्रैंडन टेलर ने जिम्बाब्वे के घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी की है।” टेलर की वापसी पर टीम के कोच हेथ स्ट्रीक ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा, “जिम्बाब्वे टीम में ब्रैंडन टेलर को वापस देखकर मैं काफी खुश हूं। हम टीम में उनका स्वागत करते हैं और देखने के लिए उत्सुक हैं कि उनकी वापसी से हम पर क्या प्रभाव पड़ता है। वह अपना बचा हुआ करियर अपनी राष्ट्रीय टीम के लिए खेलना चाहते हैं।” [ये भी पढ़ें: 2-3 वनडे से बाहर हो सकते हैं एरॉन फिंच, पीटर हैंड्सकॉम्ब की ऑस्ट्रेलियाई टीम में एंट्री]

टेलर ने अपने करियर में अब तक कुल 23 टेस्ट, 167 वनडे और 26 टी20 मैच खेले हैं। उनकी कप्तानी में जिम्बाब्वे टीम ने 2007, 2011 और 2015 आईसीसी विश्व कप खेले हैं। टेलर ने विश्व कप के 15 मैचों में कुल 690 रन बनाए हैं। टेलर की वापसी से जिम्बाब्वे क्रिकेट की एक नई शुरुआत होगी।