Brendon McCullum accepts he tested positive for a banned substance during IPL 2016
Brendon McCullum © AFP

न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान ब्रैंडन मैक्कुलम ने कबूल किया है कि 2016 आईपीएल सीजन के दौरान वो एक प्रतिबंधित पदार्थ के टेस्ट में पॉजिटिव साबित हुए थे। हालांकि उन्होंने कहा कि वो ड्रग टेस्ट में फेल नहीं हुए थे, उन्होंने टीयूई (उपचारात्मक उपयोग छूट) का इस्तेमाल कर टेस्ट क्लियर कर लिया था।

साल 2016 के दौरान वाडा की सूची में, भारत में हो रहे क्रिकेट में एक नाम मिला था, लेकिन बीसीसीआई ने उस क्रिकेटर का नाम कभी नहीं बताया। अफवाह थी कि वो कई बड़ा खिलाड़ी था। दिलचस्प बात है कि बीसीसीआई ने खुलासा किया था कि प्रदीप सांगवान, यूसुफ पठान और अभिषेक गुप्ता घरेलू सीजन के दौरान प्रतिबंधित पदार्थ के टेस्ट में पॉजिटिव साबित हुए थे।

चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए खेलना घर लौटने जैसा: सुरेश रैना
चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए खेलना घर लौटने जैसा: सुरेश रैना

साल 2016 में जब मैक्कुलम इस टेस्ट में पॉजिटिव साबित हुए थे तब वो गुजरात लायंस की तरफ से खेल रहे थे। मैक्कुलम ने टीयूई का इस्तेमाल कर अपने आपको टेस्ट से क्लियर किया था। उन्होंने स्वीडन में स्वतंत्र चिकित्सा विशेषज्ञों के एक पैनल से एक रेट्रोएक्टिव चिकित्सीय उपयोग छूट हासिल की थी। ईएसपीएन की एक खबर के मुताबिक, “दरअसल मैक्कुलम अस्थमा के मरीज हैं और दिल्ली के भारी प्रदूषण की वजह से उन्हें जरूरत से ज्यादा दवा लेनी पड़ी थी। जिसके बाद उनके यूरीन सैंपल में सैलबटमॉल की ज्यादा मात्रा पाई गई थी जो कि अस्थमा में ली जाने वाली दवा है।”

न्यूजीलैंड की वेबसाइट स्टफ डॉट सीओ से बातचीत में मैक्कुलम ने कहा, “ये सुनिश्चित करने के लिए उनके पास सारी जानकारी है और वे उन सभी जरूरी चीजों को चेक कर चुके हैं जिन्हें वे देखना चाहते थे, हमें एक लंबी प्रक्रिया से गुजरना पड़ा। लेकिन हमने सारी प्रक्रिया पूरी की और आखिर में बीसीसीआई के साथ काम करना अच्छा रहा।”

मैक्कुलम ने आगे कहा, “मैं इसे फेल ड्रग टेस्ट नहीं कहूंगा। ये ऐसा केस था जहां हमे स्पष्टीकरण मांगने और उसके लिए आवेदन करने की जरूरत पड़ी। इस प्रक्रिया को लेकर मेरे मन में कोई बुरी भावना नहीं है और ना ही मुझे इसका अफसोस है क्योंकि उस समय मुझे अपने इन्हेलर की जरूरत थी।”

उस समय इस टेस्ट को लेकर कई तरह की अफवाहें सामने आ रही थी और मैक्कलुम को लगा कि उन्हें सब कुछ साफ करने की जरूरत है। उन्होंने कहा, “काफी समय से ये बातें मेरे आस पास घूम रही थी और मैने अपनी पत्नी से कहा कि “हम इससे अभी क्यों नहीं निपट लेते, मेरे पास छुपाने के लिए कुछ नहीं है और दूसरे इस बारे में बात करें इससे अच्छा है कि हम इस बारे में बता करें।”