Cameron Bancroft: Taking little steps to achieve Australia dream again
Cameron Bancroft © Getty Images

स्टीवन स्मिथ और डेविड वार्नर के बाद अब बॉल टैंपरिंग में बैन हुए ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी कैमरून बैनक्रॉफ्ट क्रिकेट के मैदान पर वापसी के लिए तैयार हैं। बैनक्रॉफ्ट जल्द ही नॉर्दन टेरिटरी स्टाइक लीग के जरिए लंबे समय बाद क्रिकेट खेलेंगे। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट के दौरान गेंद से छेड़छाड़ करते दिखे बैनक्रॉफ्ट का मानना है ये सारे छोटे-छोटे कदम उन्हें दोबारा ऑस्ट्रेलिया टीम की ओर ले जाएंगे।

बैनक्रॉफ्ट ने कहा, “पिछले कुछ महीने काफी उतार-चढ़ाव भरे रहे हैं। आप दुख की लहरों पर आगे बढ़ते रहते हैं। कई ऐसे पल थे जब में बेहद दुखी था और कुछ ऐसे पल भी जब मुझे खुद पर गुस्सा आया था। फिलहाल मैं ठीक हूं लेकिन मैने अपने ऊपर काफी काम किया है। मैने कई दूसरी चीजों में खुद को बिजी रखा और अब मैं आगे कदम बढ़ाने को तैयार हूं। डार्विन जाकर कुछ अच्छा क्रिकेट खेलने के लिए उत्साहित हूं।”

Photo: सुरैश रैना के लिए मैदान पर ड्रिंक्स लेकर आए महेंद्र सिंह धोनी
Photo: सुरैश रैना के लिए मैदान पर ड्रिंक्स लेकर आए महेंद्र सिंह धोनी

योग और कम्यूनिटी वर्क में व्यस्त थे बैनक्रॉफ्ट

क्रिकेट से दूर बैनक्रॉफ्ट स्पेनिश सीखने, योगा और कम्यूनिटी वर्क में व्यस्त रहे। इस बारे में उन्होंने कहा, “मैं काफी योगाभ्यास कर रहा हूं। मैने एक नई भाषा सीखना शुरू किया है, मैने 6 हफ्ते स्पैनिश सीखी। मैं काफी कम्यूनिटी वर्क भी कर रहा हूं। इसके लिए मैं ब्रूम गया था, वहां कायले एंड्रयू फाउंडेशन के साथ काम किया और कैंसर पीड़ित बच्चों के साथ भी काम किया। मैने पर्थ चैरिटी के साथ स्कूलों में बच्चों को ब्रेकफॉस्ट क्लब में खाना देने का काम भी किया है। मुझे खेल से प्यार है, मुझे क्रिकेट खेलना पसंद है और ये समझना जितना मुश्किल है कि आखिर स्पैनिश सीखने का ऑस्ट्रेलिया के लिए खेलने से क्या वास्ता है, लेकिन ये सभी ऑस्ट्रेलिया के लिए फिर से खेलने के सपने को पूरा करने के रास्ते में छोटे छोटे कदम हैं।”

स्मिथ-वार्नर के साथ लगातार संपर्क में बने हुए हैं बैनक्रॉफ्ट

'तीन महीने ये सोचना कि दोबारा क्रिकेट नहीं खेल पाउंगा, बेहद मुश्किल था'
'तीन महीने ये सोचना कि दोबारा क्रिकेट नहीं खेल पाउंगा, बेहद मुश्किल था'

बैनक्रॉफ्ट ने बताया कि बॉल टैंपरिंग मामले में बैन लगने के बाद से वो, स्मिथ और वार्नर लगातार एक दूसरे के संपर्क में रहे और एक दूसरे की मदद करते रहे। उन्होंने कहा, “मैने कम से कम हफ्ते में एक बार बात करता हूं। चाहे फोन कॉल हो या मैसेज, जाहिर है कि वो भी दूसरी चीजों के साथ व्यस्त हैं। वो दो बेहद अच्छे इंसान हैं और हम एक दूसरे का ध्यान रख रहे हैं। डब्ल्यूएसीए में हमे यही सिखाया जाता कि अपने साथियों का साथ दें। हम इस पूरे विवाद में साथ खड़े रहे हैं और एक दूसरे का ख्याल रखा है।” क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने बैनक्रॉफ्ट पर 9 महीने का बैन लगाया है, जबकि स्मिथ और वार्नर पर एक-एक साल का बैन लगा है।