Captains not to attend IPL-11 opening ceremony due to logistics issue

बीसीसीआई ने फैसला किया है कि मुंबई इंडियन्स और चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तानों को छोड़कर बाकी छह अन्य आईपीएल फ्रेंचाइजी टीमों के कप्तानों को सात अप्रैल को होने वाले उद्घाटन समारोह में हिस्सा लेने की जरूरत नहीं है। सभी आठ कप्तान छह अप्रैल को विशेष वीडियो शूट में हिस्सा लेंगे और उसी शाम को अपने अपने शहरों के लिये रवाना हो जाएंगे। पिछले साल तक उदघाटन समारोह पहले मैच से एक दिन पहले होता था जिसमें कप्तान भाग लेते थे और खेल भावना रखने की कसम खाते थे।

मैच की आखिरी गेंद पर मैने आंखें बंद कर ली, आंख खुली तो जान में जान आई: विजय शंकर
मैच की आखिरी गेंद पर मैने आंखें बंद कर ली, आंख खुली तो जान में जान आई: विजय शंकर

इस साल उद्घाटन समारोह को सात अप्रैल को मुंबई और चेन्नई के बीच मैच से पहले करने का फैसला किया है। अगले दिन चार अन्य फ्रेंचाइजी को अपने मैच खेलने हैं। आठ अप्रैल को दिल्ली डेयरडेविल्स और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच मोहाली में चार बजे से जबकि आरसीबी और केकेआर के बीच आठ बजे से मैच होगा। बीसीसीआई के एक सीनियर अधिकारी ने कहा, ‘‘आईपीएल टीमों को अपना होमवर्क करना चाहिए था। वे गौतम गंभीर और रविचंद्रन अश्विन को दोपहर बाद होने वाले मैच से एक दिन पहले बुला रहे हैं। यह पूरी तरह से होमवर्क की कमी के कारण है। अब देखिये। अगर अश्विन और गंभीर उदघाटन समारोह में भाग लेते हैं तो वे मुंबई से दिल्ली के लिये नौ बजे की उड़ान ही पकड़ पाएंगे क्योंकि मुंबई से चंडीगढ़ के लिये शाम को कोई उड़ान नहीं है।’’

अधिकारी ने कहा, ‘‘दिल्ली से वे रविवार की सुबह चंडीगढ़ के लिये उड़ान नहीं पकड़ सकते क्योंकि हवाई अड्डा बंद रहेगा। इसलिए उन्हें या तो रात में या फिर मैच की सुबह कार से जाना होगा जिसमें खतरा होगा।’’ यहां तक कि विराट कोहली (आरसीबी) और दिनेश कार्तिक (केकेआर) को लंबी यात्रा करनी होगी हालांकि उनका मैच रात आठ बजे से है।