Cauvery row: Protesters hurl shoes at Ravindra Jadeja, Faf du Plessis during Chennai vs Kolkata match at Chepauk
चेन्‍नई की टीम © AFP

चेन्‍नई के एमए चिदंबरम स्‍टेडियम में कोलकाता और चेन्‍नई की टीम के बीच भारतीय टी20 लीग का पांचवां मुकाबला हो रहा है। कोलकाता की टीम ने जीत के लिए मेजबान चेन्‍नई को 203 रनों का लक्ष्‍य दिया है। आंध्रे रसल ने 11 छक्‍कों और एक चौके की मदद से महज 36 गेंद पर 88 रन ठोक दिए। ड्वेन ब्रावों ने गेंदबाजी में महज तीन ओवरों में ही 50 रन लुटा दिए। इसी बीच खबर आ रही है कि कावेरी नदी के पानी के विवाद को लेकर चेन्‍नई में चल रहे प्रदर्शनों के दौरान मैच देखने आए चार युवकाें ने खिलाड़ियों पर जूते चप्‍पल फेंक कर मारे।

चेन्‍नई पुलिस ने मैदान में आए ऐसे चार दर्शकों को बाहर निकाल दिया है। बाउंड्री लाइन पर खड़े खिलाड़ियों पर जूते चलाने का प्रयास किया गया। चेन्‍नई की टीम के खिलाड़ियों को प्रदर्शनकारियों के इस व्‍यवहार के कारण काफी दिक्‍कताें का सामना करना पड़ा। पीटीआई के मुताबिक, “आठवें ओवर के दौरान प्रदर्शनकारियों ने लांग ऑन पर खड़े रवींद्र जड़ेजा को टार्गेट किया। हालांकि वो जूते से बच गए।” फाफ डु प्‍लेसिस और लुंगी एनगिडी भी जूते से बाल-बाल बच गए। चेन्‍नई की टीम के खिलाड़ियों ने खुद इन जूतों को मैदान से बाहर निकाल दिया। कावेरी नदी के पानी के बटवारे को लेकर स्‍टेडियम के बाहर प्रदर्शन कर रहे कुछ युवकों ने मैच देखने आ रहे चेन्‍नई की टीम के फैन्‍स के साथ मारपीट भी की।

 

भारतीय टी20 लीग के कमिश्‍नर राजीव शुक्‍ला पहले ही मैच के दौरान उचित सुरक्षा मुहैया कराने के लिए केन्‍द्रीय गृह सचिव से मिल चुके हैं। मैच के दौरान चार हजार पुलिसकर्मियों को स्‍टेडियम के बाहर तैनात किया गया है। प्रदर्शनकारियों की मांग है कि जबतक उन्‍हें कावेरी नदी के पानी में ज्‍यादा हिस्‍सा नहीं मिल जाता, तबतक वो चेन्‍नई में भारतीय टी20 लीग का मैच नहीं होने देंगे। चेन्‍नई में अगला मैच अब 20 अप्रैल को होना है।