chennai super kings’s fast bowler Deepak Chahar talk about IPL experience
Deepak Chahar © ians

पहली बार चेन्नई सुपर किंग्स की जर्सी में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में उतरे 25 साल के युवा तेज गेंदबाज दीपक चहर ने कहा है कि चेन्नई के प्रशंसक पूरे देश में इतने हैं कि हर मैदान टीम के लिए घरेलू मैदान था।

जरूरत पड़ने पर टीम के लिए विकेटकीपिंग तक करने को तैयार हैं राहुल
जरूरत पड़ने पर टीम के लिए विकेटकीपिंग तक करने को तैयार हैं राहुल

तमिलनाडु और कर्नाटक के बीच कावेरी नदी के जल वितरण विवाद के कारण चेन्नई को आईपीएल में अपने घरेलू मैच पुणे में खेलने पड़े थे। दीपक ने महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली टीम का तारीफ करते हुए कहा कि यह टीम और इसका माहौल आईपीएल की बाकी टीमों से जुदा, जिसके बारे में उन्होंने सिर्फ सुना था लेकिन यहां आकर यह बात महसूस भी की।

दीपक ने आईएएनएस से फोन पर साक्षात्कार में कहा, “चेन्नई जब भी खेली है हर बार प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई किया है। इस टीम का माहौल बाकी टीमों से अलग ही है। यह सब मैंने सुना था, लेकिन जब मैं वहां पर गया तो पता चला की वाकई ऐसा है। वहां के ड्रेसिंग रूम का वातावरण, टीम प्रबंधन का सपोर्ट बाकी टीमों से बिल्कुल अलग है।

चेन्नई की फैन भी बाकी टीमों से ज्यादा हैं और अलग हैं। हम जिस भी मैदान पर जा रहे थे उस मैदान पर दूसरी टीम से ज्यादा समर्थन हमें मिल रहा था। हमारे लिए हर मैदान ही घरेलू मैदान था। इसिलए खेल के मजा आया।”

दीपक ने कहा कि चेन्नई से पुणे जाना निजी तौर पर उनके लिए फायदेमंद था और कुछ हद तक विदेशी खिलाड़ियों के लिए भी जिन्हें चेन्नई की गर्मी परेशान कर सकती थी।

बकौल दीपक, “मेरे लिए तो यह अच्छी बात थी। क्योंकि चेन्नई का विकेट फ्लैट था पुणे का विकेट थोड़ा बहुत तेज गेंदबाजों के मुफीद था। मैं, शार्दूल वहां दो साल से खेल रहे थे। हमें इस विकेट का फायदा ही हुआ। चेन्नई से पुणे जाने में ज्यादा घाटा नहीं हुआ क्योंकि जो विदेशी खिलाड़ी थे वो चेन्नई के अंदर संघर्ष करते। क्योंकि वहां गर्मी बहुत थी।”