Cheteshwar Pujara is disappointed that he didn’t get runs in County Championship, says Yorkshire director
Cheteshwar Pujara © Getty Images

एसेक्स के खिलाफ खेले तीन दिवसीय अभ्यास मैच की दोनो पारियों में भारतीय बल्लेबाज फ्लॉप रहे चेतेश्वर पुजारा को प्लेइंग इलेवन में जगह पाने के लिए केएल राहुल से कड़ा कंपटीशन मिल रहा है। लगभग एक महीने से इंग्लैंड में काउंटी क्रिकेट खेल रहे पुजारा से इससे बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद हैं। पुजारा का काउंटी सेशन बेहद खराब रहा था। यॉर्कशायर के लिए खेलते हुए 12 पारियों में पुजारा ने 14.33 की खराब औसत से 172 रन बनाए थे। हालांकि यॉर्कशायर के डायरेक्टर मार्टिन मॉक्सन का कहना है कि पुजारा की बल्लेबाजी में कोई तकनीकि खराबी नहीं है, वो इस सीजन खराब किस्मत और अच्छी गेंदबाजी का शिकार बने।

मार्टिन ने इंडियन एक्सप्रेस को दिए बयान में कहा, “चार दिवसीय मैचों में उसने उतने रन नहीं बनाए, जिसकी हमे उम्मीद थी। 50 ओवर के फॉर्मेट में उसने अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन साल की शुरुआत में वो कुछ खराब एलबीडब्ल्यू फैसलों का शिकार हुआ और कई बार वो रन आउट भी हुआ। इन वजहों से इस सीजन उसे लय नहीं मिली। सीजन की शुरुआत में जब वो खेल रहा था तो काफी बारिश हुई। पिच सीमर्स की मददगार थी, इसलिए किसी के लिए भी लंबे समय तक बल्लेबाजी करना मुश्किल था। उसके रन ना बनाने की पीछे कुछ कारण हैं। पिच काफी मुश्किल थी।”

LGBT समर्थन के लिए रेनबो लेस पहनकर खेलेंगे इंग्लिश क्रिकेटर
LGBT समर्थन के लिए रेनबो लेस पहनकर खेलेंगे इंग्लिश क्रिकेटर

मार्टिन ने पुजारा की बल्लेबाजी तकनीक के बारे में कहा, “नहीं, तकनीकि नजरिए से उसकी बल्लेबाजी में कोई खराबी नहीं है। उसका संतुलन सही था। उसने खेल पर काफी मेहनत की। इस मामले में वो पेशेवर खिलाड़ी है, उसे बस लय नहीं मिली। कई ऐसे मौके थे जब हमे लगा कि आज का दिन उसके लिए अच्छा जा करहा है, आज वो बड़ा स्कोर बनाएगा लेकिन फिर वो कोई तरीका ढूंढकर आउट हो गया। वो उतना ही परेशान है, जितने हम लेकिन कोई तकनीकि खराबी नहीं है।”

डायरेक्टर ने आगे कहा, “पुजारा ने खुद कहा कि वो निराश है कि वो काउंटी चैंपियनशिप में रन नहीं बना पाया। उसने कहा, ‘मुझे माफ कर दीजिए लेकिन मैने अपना सर्वश्रेष्ठ किया’ और हमे ये पता था। इस बात में कोई दोराय नहीं है कि उसने अपना पूरा योगदान दिया लेकिन काम नहीं चला। उसे ये पता है, सभी को ये बात पता है।”

पुजारा के इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए प्लेइंग इलेवन में शामिल होने को लेकर मार्टिन ने कोई टिप्पणी नहीं की। उन्होंने कहा कि वो भारतीय मैनेजमेंट को कोई सलाह नहीं देना चाहेंगे। लेकिन उन्होंने ये जरूर माना कि पुजारा एक क्वालिटी खिलाड़ी हैं।