फोटो साभार: india.com
फोटो साभार: india.com

क्रिकेट में छक्के तो अमूमन हर मैच में जड़े जाते हैं लेकिन उन छक्कों को लेकर चर्चा लंबे समय तक होती है जो लंबे और ऊंचे हों। क्योंकि ये छक्के अक्सर दर्शकों को रोमांचित करते हैं। एक ऐसा ही छक्का ऑस्ट्रेलिया में खेले जा रहे बीबीएल टूर्नामेंट में देखने को मिला। बल्लेबाजी कर रहे थे ब्रिस्बेन हीट के क्रिस लिन और गेंदबाजी आक्रमण पर थे होबार्ट हरीकेन्स के तूफानी गेंदबाज शॉन टैट। टैट की 147 किमी./घंटा की रफ्तार वाली गेंद पर लिन ने परफेक्ट टाइमिंग के साथ मिड विकेट के ऊपर से गेंद को इतनी लंबी दूरी पर मारा कि गेंद स्टेडियम की छत पर पहुंच गई। इस छक्के की लंबाई 121 मीटर रही और यह बीबीएल के इतिहास का सबसे लंबा छक्का है।

इसके पहले बीबीएल में सबसे लंबे छक्के का रिकॉर्ड हरीकेन्स टीम के डेन क्रिस्टियन के नाम था। उन्होंने साल 2015 में 117 मीटर लंबा छक्का जड़ा था। इस मैच में हरीकेन्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 9 विकेट पर 173 रनों का स्कोर बनाया था। होबार्ट की ओर से कोई बल्लेबाज बड़ा स्कोर नहीं बना सका था और क्रिस्टियान 33 रन बनाकर सर्वोच्च स्कोर बनाने वाले खिलाड़ी रहे थे। [ये भी पढ़ें: साल 2017 में दक्षिण अफ्रीका का दौरा करेगी टीम इंडिया]

जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी ब्रिस्बेन हीट को पहला झटका 9 के स्कोर पर ही लग गया जब जिमी पियर्सन 1 रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद बल्लेबाजी करने आए क्रिस लिन ने ब्रेंडन मैकलम के साथ 47 गेंदों में 109 रनों की साझेदारी की। मैकलम 35 गेंदों में 72 रन बनाकर आउट हुए वहीं लिन अंत तक 50 गेंदों में 84 रन बनाकर नाबाद रहे। अंततः ब्रिस्बेन ने मैच 16.2 ओवरों में तीन विकेट खोकर जीत लिया। क्रिस लिन को उनकी धुआंधार पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।