कायरॉन पोलार्ड getty@2017
कायरॉन पोलार्ड getty@2017

कैरेबियन प्रीमियर लीग के एक मुकाबले में बारबाडोस के कप्तान और ऑलराउंडर कायरॉन पोलार्ड ने ऐसी शर्मनाक हरकत की जिसके बाद उनकी चारो ओर आलोचना हो रही है। सेंट किट्स के खिलाफ मैच के दौरान उन्होंने ओपनर एविन लुइस को शतक से रोकने के लिए जानबूझकर नो बॉल फेंक दी जिससे वो शतक से चूक गए। दरअसल 129 रन के लक्ष्य का पीछा कर रही सेंट किट्स के ओपनिंग बल्लेबाज लुइस ने जबर्दस्त बल्लेबाजी की। उन्होंने सिर्फ 32 गेंद में 97 रन ठोक कर अपनी टीम को जीत के करीब पहुंचा दिया। जब सेंट किट्स को 1 रन की जरूरत थी तो उस दौरान लुइस 92 रन पर नाबाद थे और गेंदबाजी कायरॉन पोलार्ड कर रहे थे। लुइस अपने शतक तक ना पहुंच पाएं तो पोलार्ड ने जानबूझकर गेंद नो बॉल फेंक दी और लुइस शतक से चूक गए।

पोलार्ड की इस हरकत की चारों ओर आलोचना हो रही है। मैच के दौरान कमेंट्री कर रहे न्यूजीलैंड पूर्व तेज गेंदबाज जॉनी मॉरिसन ने पोलार्ड की इस हरकत को गलत बताया। उन्होंने कहा, ‘पोलार्ड को ऐसा नहीं करना चाहिए था। एविन लुइस शतक बनाने के हकदार थे। जिस तरह से पोलार्ड ने मैच को खत्म किया ये काफी निराशाजनक था।’ केविन लुइस ने भी अपने शतक पूरा ना करने पर अफसोस जताया। उन्होंने कहा, ‘शतक ना बना पाने का दर्द है लेकिन मैं 33 गेंद में 97 रन बनाकर नाबाद रहा। मैं किसी और दिन शतक पूरा कर लूंगा। मैंने नेट्स पर गेंदों को ताकत से और ज्यादा दूर मारने की प्रैक्टिस की थी। मैं काफी आत्मविश्वास से लबरेज हूं और मैं अब प्लेऑफ में रन बनाने के लिए तैयार हूं।’ आईसीसी रैंकिंग में विराट कोहली का ‘रिकॉर्डतोड़’ प्रदर्शन, सचिन तेंदुलकर के बड़े रिकॉर्ड की बराबरी की

बारबाडोस के खिलाफ एविन लुइस की बल्लेबाजी जिसने भी देखी वो हैरान रह गया। लुइस ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के दौरान 11 छक्के और 3 चौके लगाए। लुइस ने 300 से भी ज्यादा के स्ट्राइक रेट से 32 गेंद में 97 रन की पारी खेली। जिसके दम पर सेंट किट्स ने 129 रन का लक्ष्य सिर्फ 7 ओवर में हासिल कर लिया। हैरानी की बात ये है कि लुइस के ओपनिंग पार्टनर क्रिस गेल थे जिन्होंने 14 गेंद खेली और वो 22 रन पर नाबाद रहे।