Decision on Mohammed Shami’s IPL partnership will be taken after giving ACU report: CK Khanna
मोहम्मद शमी © AFP

बीसीसीआई के कार्यकारी अध्यक्ष सीके खन्ना ने आज कहा कि विवादों में घिरे तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी  की आगामी इंडियन प्रीमियर लीग में भागीदारी बीसीसीआई की भ्रष्टाचार रोधी इकाई (एसीयू) प्रमुख नीरज कुमार की जांच रिपोर्ट पर निभर्र करेगी। सीओए प्रमुख विनोद राय ने नीरज कुमार को इस क्रिकेटर पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच करने का निर्देश दिया है। शमी की पत्नी हसीन जहां ने इस गेंदबाज पर ब्रिटेन के बिजनेसमैन से पाकिस्तानी महिला के जरिए धनराशि लेने का आरोप लगाया था।

कार्यकारी अध्यक्ष खन्ना ने आईपीएल की संचालन परिषद की बैठक के मौके पर पीटीआई से कहा, ‘‘एसीयू प्रमुख नीरज कुमार जांच कर रहे हैं और उन्हें सात दिन का समय दिया गया है और उनके रिपोर्ट सौंपने के बाद ही कोई भी फैसला किया जायेगा। अंतिम फैसला सीओए द्वारा लिया जायेगा।’’ शमी को दिल्ली डेयरडेविल्स ने तीन करोड़ रूपये की राशि में खरीदा था। बीसीसीआई ने पहले ही शमी का सालाना कॉन्ट्रेक्ट रोक दिया था जब हसीन जहां ने उन पर घरेलू हिंसा और व्यभिचार के आरोप लगाये थे।

कोलकाता नाइट राइडर्स की बढ़ी मुश्किलें, गेंदबाजी एक्‍शन को लेकर विवाद के बाद ये खिलाड़ी हो सकता है आईपीएल से बाहर
कोलकाता नाइट राइडर्स की बढ़ी मुश्किलें, गेंदबाजी एक्‍शन को लेकर विवाद के बाद ये खिलाड़ी हो सकता है आईपीएल से बाहर

संचालन परिषद की बैठक के अन्य फैसलों में आईपीएल के उद्घाटन समारोह के आयोजन के लिये 18 करोड़ रूपये की राशि निर्धारित की गयी। खन्ना ने कहा, ‘‘बीसीसीआई की वित्तीय टीम ने फैसला किया कि उद्घाटन समारोह पर 18 करोड़ रूपये खर्च किए जायेंगे, हालांकि इसके लिये 30 करोड़ रूपये के बजट को मंजूरी दी गई थी।’’

आईपीएल प्लेऑफ मैच पुणे को दिए गए जबकि राजकोट और लखनऊ के नव निर्मित स्टेडियम को ‘स्टैंडबाई’ के तौर पर रखा गया है, अगर किसी केंद्र को मुश्किल होती है तो इसे इस्तेमाल किया जायेगा। किंग्स इलेवन पंजाब ने पहले ही कुछ निश्चित समय के लिये अपने मैच हटाने के लिये पूछा है, जब चंडीगढ़ हवाईअड्डा मरम्मत के लिये बंद होगा।

सात अप्रैल को होने वाले उद्घाटन समारोह के दौरान सभी आठ आईपीएल टीमों के कप्तान हर बार की तरह मौजूद होंगे। आमतौर पर अगले दिन होने वाले मुकाबले में भाग लेने वाली टीमों के कप्तान इस समारोह में भाग नहीं लेते। बीसीसीआई ने ‘कैंसर के लिये पूर्व जांच संबंधित’ सामाजिक कार्यक्रम के लिये टाटा ट्रस्ट के साथ करार करने का भी फैसला किया।