Deodhar Trophy 2018: India B beat Karnataka by 6 wicets to win tittle
श्रेयस अय्यर ने 61 रनों की शानदार पारी खेली © PTI (file photo)

धर्मशाला। चार बल्लेबाजों की अर्धशतकीय पारियों से दम पर भारत ‘बी’ ने विजय हजारे ट्रॉफी की चैंपियन कर्नाटक को छह विकेट से हराकर देवधर ट्रॉफी क्रिकेट चैंपियनशिप जीता ली है। बेहतरीन फार्म में चल रहे रविकुमार समर्थ (107) के टूर्नामेंट में दूसरे शतक और सीएम गौतम के साथ पांचवें विकेट के लिए 132 रन की शानदार साझेदारी के बावजूद शीर्ष क्रम के दूसरे बल्लेबाजों के सस्ते में आउट होने की वजह से पहले बल्लेबाजी के लिये उतरी कर्नाटक की टीम आठ विकेट पर 279 रन ही बना पाई।

भारत ‘बी’ ने 48.2 ओवरों में चार विकेट पर 281 रन बनाकर जीत दर्ज की। उसकी तरफ से रूतुराज गायकवाड़ (58) और अभिमन्यु ईश्वरन (69) की सलामी जोड़ी ने पहले विकेट के लिये 84 रन जोड़े। इन दोनों के अलावा कप्तान श्रेयस अय्यर (61) और मनोज तिवारी (नाबाद 59) ने भी अर्धशतक जमाये। कर्नाटक ने विजय हजारे ट्रॉफी से अपना विजय अभियान जारी रखा था। उसने लीग चरण में भारत ‘बी’ को रोमांचक मैच में छह रन से हराया था। भारत ‘बी’ ने आज उस मैच का बदला चुकता करने में कसर नहीं छोड़ी।

ग्रेड सी पुरुष क्रिकटरों से भी आधी है ग्रेड ए महिला क्रिकेटरों की फीस
ग्रेड सी पुरुष क्रिकटरों से भी आधी है ग्रेड ए महिला क्रिकेटरों की फीस

रणजी ट्रॉफी और विजय हजारे ट्रॉफी में रनों का अंबार लगाने वाले मयंक अग्रवाल इस टूर्नामेंट में अपना जलवा नहीं दिखा पाए और 14 रन बनाकर रन आउट हो गए। कप्तान करूण नायर (10), पवन देशपांडे (13) और स्टुअर्ट बिन्नी (2) के जल्दी आउट होने से कर्नाटक का स्कोर चार विकेट पर 64 रन हो गया। पिछले दो मैचों में 117 और 85 रन बनाने वाले समर्थ ने पारी को एक छोर संभाले रखा। इस 25 वर्षीय बल्लेबाज ने लिस्ट ए में अपना तीसरा शतक जमाया। उन्होंने 120 गेंद की अपनी पारी में आठ चौके और एक छक्का लगाया।

समर्थ को गौतम के रूप में अच्छा साथी मिला जिन्होंने 84 गेंदों का सामना करके छह चौके और दो छक्के लगाए। निचले क्रम में श्रेयस गोपाल ने 22 गेंदों पर 38 रन की तूफानी पारी खेली। भारत ‘बी’ की तरफ से बायें हाथ के तेज गेंदबाज खलील अहमद ने 49 रन देकर तीन और उमेश यादव ने 48 रन देकर दो विकेट लिये। भारत ‘बी’ की मजबूत बल्लेबाजी लाइन अप ने किसी भी समय लक्ष्य बड़ा नहीं बनने दिया। गायकवाड़ ने शुरू में ही तीखे तेवर अपनाये। उन्होंने अपनी 48 गेंद की पारी में सात चौके और दो छक्के जमाये और इस बीच ईश्वरन के साथ पहले विकेट के लिये 84 रन जोड़े।

ईश्वरन ने एक छोर संभाले रखा। उन्होंने हनुमा विहारी (21) के साथ दूसरे विकेट के लिये 40 और अय्यर के साथ तीसरे विकेट के लिये 62 रन की साझेदारियां की। अय्यर और तिवारी ने बाद में चौथे विकेट के लिये 83 रन जोड़कर भारत ‘बी’ की जीत सुनिश्चित की। कर्नाटक की तरफ से गोपाल सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने 55 रन देकर दो विकेट लिये।