© Getty Images
© Getty Images

पाकिस्तान के खिलाफ फाइनल में टीम इंडिया का हर बल्लेबाज पाकिस्तानी गेंदबाजों के आगे पनाह मांगता नजर आया। ऐसी विपरीत परिस्थिति में हार्दिक पांड्या ने गजब का धैर्य दिखाया और विपक्षी टीम के गेंदबाजों की बखिया उधेड़ दी। जब वह टीम इंडिया को एक अप्रत्याशित जीत की ओर लिए जा रहे थे तभी रविंद्र जडेजा और उनके बीच रन लेने में गफलत हुई और इसकी कीमत उन्हें अपना विकेट गंवाकर चुकानी पड़ी। इस बात से पांड्या खासे खफा नजर आए। और अनमने मन से पवेलियन लौटे। यहीं से टीम इंडिया मैच से बाहर हो गई और अंततः 180 रनों से मैच हार गई। सोशल मीडिया पर इस बात को लेकर यह बहस निकल पड़ी कि जडेजा को पांड्या के लिए अपने विकेट की कुर्बानी दे देनी चाहिए थी। इस तरह पांड्या हीरो बन गए और जडेजा विलेन। इसके अतिरिक्त कई लोगों ने जडेजा को कटप्पा तक कह डाला।

मैच के थोड़ी देर बाद हार्दिक पांड्या के ऑफिसियल ट्विटर अकाउंट के एक ट्वीट का स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया में वायरल होना शुरू हो गया जिसमें लिखा था, “हमे तो अपनों ने लूटा, गैरों में कहां दम था।” यह इस परिप्रेक्ष्य में फिट बैठता है कि जडेजा ने पांड्या को रन आउट करा लिया। जबकि पांड्या बड़े स्ट्रोक खेल रहे थे और रन बना रहे थे।  [भारत बनाम पाकिस्तान, चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल, फुल स्कोरकार्ड जानने के लिए क्लिक करें...] 

hae

इस ट्वीट के स्क्रीनशॉट को कई ट्विटर यूजर ने शेयर किया। ट्विटर यूजर्स ने लिखा कि पांड्या ने ये ट्वीट करने के थोड़ी देर बाद इसे डिलीट कर दिया। इसके अलावा जडेजा के व्यवहार के लिए सोशल मीडिया में लोगों ने उनकी खूब निंदा की। लेकिन क्या यह ट्वीट हार्दिक पांड्या ने ही किया था? एक अंग्रेजी वेबसाइट के मुताबिक उसने इस संबंध में हार्दिक पांड्या से खुद संपर्क किया और उन्हें पता चला कि यह ट्वीट पांड्या का नहीं है। इसका मतलब है कि यह ट्वीट फोटो एडिट करके बनाया गया है।


वैसे इस सुबह पांड्या पहले भारतीय खिलाड़ी थे जिन्होंने ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, “चैंपियंस ट्रॉफी 2017 टीम इंडिया के लिए बेहतरीन रही। हमने अपना सर्वश्रेष्ठ दिया। पूरी टीम ने एक साथ अच्छा प्रदर्शन किया। सभी लोगों को मैसेज और समर्थन करने के लिए शुक्रिया।” पांड्या ने फाइनल मैच में बैट और गेंद दोनों ने से जानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने बैट से 43 गेंदों में 76 रन 6 छक्कों की मदद से वहीं गेंदबाजी में उन्होंने 10 ओवरों में 53 रन देकर 1 विकेट झटका।