England have to make a bold call by leaving out either James Anderson or Stuart Broad, says Michael Vaughan
Stuart Broad, James Anderson © Getty Images

पाकिस्तान के खिलाफ लॉर्ड्स में खेले गए पहले टेस्ट मैच में 9 विकेट से मिली हार के बाद इंग्लैंड क्रिकेट टीम में खलबली मच गई है। सलामी बल्लेबाज मार्क स्टोनमैन की जगह कीटोन जेनिंग्स को इंग्लैंड टीम में शामिल किए जाने के बाद अब दूसरे टेस्ट से पहले एक और बड़े बदलाव की संभावना है। दरअसल इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने कहा है कि अगर इंग्लैंड को पाकिस्तान के खिलाफ दूसरा टेस्ट जीतना है तो टीम के सीनियर गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड या जेम्स एंडरसन को बाहर करना होगा।

एबी डिविलियर्स के संन्यास के बाद चैन से सोएंगे गेंदबाज: डेल स्टेन
एबी डिविलियर्स के संन्यास के बाद चैन से सोएंगे गेंदबाज: डेल स्टेन

द टेलीग्राफ को दिए बयान में वॉन ने कहा, “शायद इंग्लैंड को इस हफ्ते हेडिंग्ले में कुछ कड़े फैसले लेने पड़ सकते हैं और जेम्स एंडरसन या स्टुअर्ट ब्रॉड में से किसी एक को बाहर बिठाना पड़ सकता है। इंग्लैंड हार रही है, टेस्ट टीम बिल्कुल अच्छा नहीं खेल रही है और कुछ करना जरूरी है। एंडरसन और ब्रॉड शानदार गेंदबाज हैं लेकिन अगर एक को बाहर किया गया तो ये एक वेकअप कॉल होगा।” हालांकि वॉन ने कहा कि वो चाहते हैं कि दोनों ही गेंदबाजों को खेलने का मौका मिले लेकिन उन्होंने इंग्लैंड टीम को कुछ नया करने की सलाह दी, क्योंकि टीम ने 2017 के बाद से कोई टेस्ट मैच नहीं जीता है।

वॉन ने आगे लिखा, “टीम ने एंडरसन, ब्रॉड और एलेस्टर कुक तीन सीनियर खिलाड़ियों के रहते कप्तान जो रूट की परेशानियां बढ़ जाती हैं। एक काम जो वो नहीं कर सकते हैं कि एशेज के आखिर तक टीम में टिके रहें।” पाकिस्तानी गेंदबाजों ने पहले टेस्ट मैच में इंग्लिश बल्लेबाजी क्रम को उधेड़ कर रख दिया था। वॉन नहीं चाहते कि दूसरे मैच में भी ऐसा हो और इंग्लैंड घर पर सीरीज हार जाय।

वॉन ने आगे लिखा, “हम गलती ये कर रहे हैं कि दबाव में गेंद पर हाथ चला रहे हैं ना कि उसे अपने पास आने दे रहे हैं। हमे इससे बेहतर करना होगा। एक तरीके से आप अपने हाथ खड़े कर रहे हैं। मुझे उम्मीद रहेगी कि वो अपने खेल के तरीके से शर्मिंदा हों और अगले मैच में बेहतर प्रदर्शन करें।” इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच दूसरा टेस्ट 1 जून को लीड्स में खेला जाना है।