Eoin Morgan admits England team takes Jos Buttler for granted at times
Eoin Morgan © Getty Images

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में 4-0 से बढ़ बना चुकी इंग्लैंड टीम मैनेचेस्टर में खेले गए पांचवें मैच में एक समय हार की कगार पर थी। 206 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेजबान टीम ने 50 के स्कोर पर पांच बड़े विकेट खो दिए थे, ऐसे में विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर ने 110 रनों की तूफानी पारी खेलकर टीम को जीत दिलाई।

बटलर ने पांच मैचों की इस सीरीज में कुल 275 रन बनाए हैं। हाल ही में टेस्ट टीम में जगह बनाने वाले बटलर ने आईपीएल के 11वें सीजन में भी शानदार प्रदर्शन किया था। ताज्जुब है कि लगातार अच्छे प्रदर्शन के बाद भी बटलर को इंग्लिश टीम में वो पहचान नहीं मिली है, जिसके वो हकदार हैं। कप्तान इयॉन मॉर्गन ने भी माना कि इंग्लैंड टीम कई बार बटलर को हल्के में लेती है।

मैनचेस्टर वनडे में जीत के बाद मॉर्गन ने कहा, “आज का दिन काफी यादगार था। बटलर ने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। कई बार हम उसे हल्के में लेते हैं। उसने लड़कर टेस्ट टीम में अपनी जगह बनाई है जो कि बेहद रोमांचक है।”

इंग्लैंड जैसी वर्ल्ड क्लास टीम ने हमे अच्छा सबक सिखाया: टिम पेन
इंग्लैंड जैसी वर्ल्ड क्लास टीम ने हमे अच्छा सबक सिखाया: टिम पेन

इंग्लैंड ने पहली बार ऑस्ट्रेलिया को वनडे सीरीज में 5-0 से क्लीन स्वीप किया है। जीत भले ही बड़ी है लेकिन मॉर्गन का मानना है कि इंग्लैंड टीम में अब भी सुधार की गुंजाइश है। उन्होंने कहा, “अगर हम ये सोचते हैं कि हमे अपने आप से कोई सवाल नहीं करने हैं तो ये मूर्खता होगी। ये बात कि हम जीत गए एक बोनस है लेकिन हमे ईमानदारी दिखानी होगी। इस सीरीज में पहली बार ऐसा हुआ है जब हमारा बल्लेबाजी क्रम फेल हुआ है। आज से पहले हमने अच्छे तरह खेला है।”

मॉर्गन ने आगे कहा, “हमारी गेंदबाजी में काफी सुधार हुआ है। जिस तरह हमने वापसी की वो काबिले तारीफ है। आखिर में शानदार माहौल रहा। दर्शक शानदार रहे हैं, इस बात में कोई संदेह नहीं है कि वो आज हमारे 12वें खिलाड़ी थे।”