Former Pakistan cricketer Aamer Hanif’s son commits suicide
© Getty Images

इस्‍लामाबाद: पाकिस्तान के पूर्व अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेटर आमिर हनीफ के बेटे ने अंडर-19 टीम में चयन नहीं होने के कारण आत्महत्या कर ली। हनीफ के सबसे बड़े बेटे मोहम्मद जारयाब ने सोमवार को आत्महत्या की। स्‍कूली शिक्षा खत्‍म करने के बाद उन्‍होंने अपने कॉलेज की पढ़ाई शुरू की थी। वह प्रथम वर्ष के छात्र थे।

भारतीय महिला बनाम दक्षिण अफ्रीका महिला टीम, चौथा टी20 (प्रिव्यू): सीरीज जीतने पर रहेगी टीम इंडिया की निगाहें
भारतीय महिला बनाम दक्षिण अफ्रीका महिला टीम, चौथा टी20 (प्रिव्यू): सीरीज जीतने पर रहेगी टीम इंडिया की निगाहें

पाकिस्‍तानी टीवी चैनल जियो न्यूज ने पिता हनीफ के हवाले से बताया कि उम्र के आधार पर उनके बेटे का अंडर-19 टीम में चयन नहीं हुआ, जिसके कारण वह उदास था। रिपोर्ट के अनुसार, जारयाब जनवरी में लाहौर में एक अंडर-19 टूर्नामेंट के दौरान कराची की ओर से खेला और चोटिल होने के कारण उसे वापस घर भेज दिया गया। वह जाना नहीं चाहता था लेकिन उसे भरोसा दिया गया कि टीम में उसका चयन हो जाएगा। हालांकि बाद में उम्र ज्यादा होने के आधार पर उसे टीम में नहीं चुना गया।

हनीफ ने कहा, “मेरे बेटे को देश में अंडर-19 क्रिकेट मामले की देख-रेख करने वाले लोगों और कोच ने आत्महत्या करने के लिए मजबूर किया। मेरे बेटे पर दवाब बनाया गया। कोच के बर्ताव ने उसे आत्महत्या करने पर मजबूर किया। अन्य लगों के बेटों को इस प्रकार के वातावरण से बचाया जाना चाहिए।