Game doesn’t look at tattoos, it sees commitment: Virat Kohli
Virat kohli © facebook page

क्रिकेट के स्टार खिलाड़ी विराट कोहली का कहना है कि उनके शुरुआती दिनों में लोग उन्हें उनके विनम्र व्यवहार पर तौलते थे और उनकी धारणा थी कि वह कुछ नहीं कर सकते। कोहली ने कहा कि आपकी कड़ी मेहनत का फल आपको मिलता है और खेल टैटू नहीं बल्कि आपकी प्रतिबद्धिता को देखता है।

पहले दिन कप्तान कोहली की चाल हुई कामयाब, बुरे फंसे अंग्रेज
पहले दिन कप्तान कोहली की चाल हुई कामयाब, बुरे फंसे अंग्रेज

‘जीक्यू इंडिया’ के अगस्त माह के संस्करण के लिए साक्षात्कार में कोहली ने अपने पेशेवर जीवन के शुरुआती दिनों के बारे में बात की।

कोहली ने कहा, “मैंने जब करियर की शुरुआत की थी, तो मुझे कई लोग मुझे देखकर धारणा बना लेते थे। मुझे मेरी उपस्थिति के बारे में कई प्रतिक्रियाएं मिलती थी। लोग कहते थे कि मैं कुछ नहीं कर सकता।”

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान कोहली ने कहा, “सच्चाई यह है कि अगर आप कड़ी मेहनत करते हैं, तो खेल आपको इसका फल देगा। खेल आपके टैटू नहीं बल्कि आपकी प्रतिबद्धिता को देखता है।”

कोहली ने कहा, “मेरे लिए जीत एक जुनून है। मैंने हार को स्वीकार करना अब सीखा है, लेकिन पहले हार मिलने पर मैं पागलों जैसा व्यवहार करता था।”

वर्तमान में कोहली जीत के जुनून को देखने के बजाए कंधो पर जिम्मेदारी का भार संभालना सीख रहे हैं।