Gautam Gambhir says I never dropped myself from playing eleven of Delhi Daredevils
Gautam Gambhir © IANS

इंडियन प्रीमियर लीग में लीग स्टेज में आखिरी पायदान पर रहने वाली दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम के पूर्व कप्तान गौतम गंभीर ने एक खुलासा किया है। गंभीर का कहना है कि उन्होंने टीम की कप्तानी छोड़ी थी लेकिन मैच खेलना चाहते थे। उन्होंने खुद को प्लेइंग इलेवन से बाहर रखा है यह बात सरासर गलत है।

11वें सीजन के बाद आईपीएल में नहीं नजर आएंगे ये खिलाड़ी!
11वें सीजन के बाद आईपीएल में नहीं नजर आएंगे ये खिलाड़ी!

आईपीएल के 11वें सीजन में दिल्ली डेयरडेविल्स की कप्तानी का जिम्मा संभालने वाले गौतम गंभीर ने टीम को मिल रही हार के बाद कप्तानी पद छोड़ दिया था। दिल्ली की टीम को 6 मैचों में मिली 5 हार के बाद गंभीर ने कप्तानी छोड़ने का फैसला लिया था।

कप्तानी से हटने के बाद युवा श्रेयश अय्यर को टीम की कमान सौंपी गई थी। गंभीर ने एक टीवी चैनल पर इस बात का खुलासा किया है कि वह हर मैच में खेलना चाहते थे लेकिन उनको टीम में नहीं चुना गया।

वह खेलना चाहते थे उनको टीम में जगह नहीं दी गई

गंभीर ने बताया टीम मैनेजमेंट का यह कहना कि उन्होंने खुद प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं होने का फैसला किया, बिल्कुल गलत है। वह दिल्ली के हर मैच में खेलना चाहते थे लेकिन उनको प्लेइंग इलेवन में शामिल ही नहीं किया गया। अगर उनको खेलना नहीं होता तो वह ना तो प्रैक्टिस करते और ना ही ड्रेसिंग रूम का हिस्सा बनते।

कोच रिकी पॉन्टिंग से खफा हैं गंभीर

गौतम गंभीर ने साफ साफ शब्दों में कहा कि कैसे दिल्ली डेयरडेविल्स के कोच रिकी पॉन्टिंग ने उनको प्लेइंग इलेवन में कप्तानी छोड़ने के बाद चुना ही नहीं। उन्होंने कहा अगर उनसे यह कहा जाता की उनकी जगह नहीं बनती वो इसको डिजर्व नहीं करते तो उनको ज्यादा खुशी होती।