Going to be hard work for Virat Kohli against James Anderson in England: Glen McGrath
Virat Kohli © IANS

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली 2014 के अपने बुरे सपने जैसे इंग्लैंड दौरे की तुलना में अब कहीं अधिक अनुभवी खिलाड़ी हैं। ऑस्ट्रेलिया के महान तेज गेंदबाज ग्लेन मैकग्रा ने चेताया है कि फार्म में चल रहे तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन इस बार भी भारतीय कप्तान के लिए मुश्किलें पैदा कर सकते हैं।

फिर चोटिल हुए इशांत, अफगानिस्‍तान डेब्‍यू टेस्‍ट खेलने पर संदेह
फिर चोटिल हुए इशांत, अफगानिस्‍तान डेब्‍यू टेस्‍ट खेलने पर संदेह

मैकग्रा ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘कोहली अब कहीं अधिक अनुभवी खिलाड़ी है। वह स्तरीय खिलाड़ी है इसमें कोई शक नहीं है। लेकिन इंग्लैंड के हालात काफी कड़े होते हैं। जब आपके खिलाफ जिमी एंडरसन जैसा गेंदबाज होता है , जो अब अच्छी गेंदबाजी कर रहा हैं तो यह काफी कड़ा हो जाता है। आपको कड़ी मेहनत के लिए तैयार रहना होगा। कोहली स्तरीय खिलाड़ी है इसलिए मैं इस मुकाबले के लिए उत्सुक हूं।’’

मैकग्रा ने स्पष्ट किया कि सिर्फ कोहली पर निर्भर रहना बेवकूफाना होगा और अगर वह विफल रहता है तो यह अन्य खिलाड़ियों को जिम्मेदारी निभाने का मौका देगा। उन्होंने कहा , ‘‘ आप हमेशा चाहते हैं कि आपका सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज अच्छा प्रदर्शन करे। हालांकि यह अन्य बल्लेबाजों को भी जिम्मेदारी निभाने का मौका देता है और अब भी टीम में कुछ अच्छे बल्लेबाज मौजूद हैं। अगर भारत असल में एक ही खिलाड़ी पर निर्भर है तो वे गलती कर रहे हैं।’’

चेतेश्वर पुजारा इंग्लैंड में चार दिवसीय मैचों के दौरान काफी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पा रहे लेकिन मैकग्रा का कहना है कि वहां रहने का अनुभव भी फायदेमंद साबित होगा।

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने नहीं देखा कि ब्रिटेन के हालात कैसे हैं। पुजारा रन नहीं बना पाने के बावजूद वहां है। वह के हालात में खेलने से ही मुझे लगता है कि उसे मदद मिलेगी।’’

गेंदबाजी विभाग के बारे में पूछने पर मैकग्रा ने भरोसा जताया कि तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह छाप छोड़ेंगे।