साभार- AFP
साभार- AFP

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली जा रही टी20 सीरीज को उस वक्त झटका लगा था जब गुवाहाटी के बारसपारा स्टेडियम में खेले गए दूसरे टी20 मैच के बाद ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को ले जा रही बस पर कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा एक पत्थर फेंका गया था और बस का कांच टूट गया था। गौरतलब है कि दूसरे टी20 में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 8 विकेट से हरा दिया था। इस घटना को प्रकाश में लाने के लिए ऑस्ट्रेलियाई ओपनर एरन फिंच ने बस के टूटे हुए कांच की फोटो सोशल मीडिया पर अपलोड की थी। इस घटना के बाद क्रिकेटर्स और मिनिस्टर्स ने इस हमले की निंदा की थी और हैदराबाद में खेले जाने वाले तीसरे टी20 के पहले भारी सुरक्षाबल के इंतजाम को लेकर आश्वासन दिया था।

स्पोर्ट्स मिनिस्टर राज्यवर्धन सिंह राठौर और असम चीफ मिनिस्टर सबरनंदा सोनोवाल ने फौरन ट्विटर पर ट्वीट किया। सोनोवाल ने लिखा, “एक अच्छे मैच के बाद दुर्भाग्यशाली घटना घटी। यह कृत्य गुवाहाटी की प्रतिष्ठा को नष्ट करने के लिए किया गया जो एक उभरता हुए स्पोर्ट्स हब है। हम इसकी निंदा करते हैं।” इसके बाद असम के कई क्रिकेट फैंस उस होटल के पास पहुंचे जहां ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर ठहरे हुए थे। उन्होंने प्लेकार्ड दिखाकर इस खराब घटना के लिए माफी मांगी। ज्यादातर प्लेकार्ड में लिखा हुआ था ‘माफ करें’। वहीं एक प्लेकार्ड ने घटना को शर्मनाक बताया। [ये भी पढ़ें: 14 अक्टूबर को शादी के बंधन में बंध जाएंगे बेन स्टोक्स]

 

वैसे फैंस की यह बात ऑस्ट्रेलिया क्रिकेटरों को अच्छी लगी और उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि भले ही पिछली रात बढ़िया न रही हो लेकिन असम के फैंस और बच्चों से मिला समर्थन बहुत अच्छा था। इसके पहले रिस्ट स्पिनर एडम जंपा ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के साथ बातचीत में कहा था भारत में गेम की लोकप्रियता ही इस तरह की घटना का कारण है।