Harbhajan Singh feels Dale Steyn will not be a big threat to Indian Batsman on South Africa tour
डेल स्टेन लंबे समय बाद टेस्ट क्रिकेट में वापसी कर रहे हैं © Getty Images (File Photo)

भारतीय स्पिनर हरभजन सिंह का कहना है दक्षिण अफ्रीका दौरे पर भारतीय बल्लेबाज तेज गेंदबाज डेल स्टेन पर भारी पड़ेंगे। सीनियर खिलाड़ी कहा, ‘‘भारत के बल्लेबाजी क्रम को देखें। हमारे पास मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे, रोहित शर्मा जैसे बेहतरीन बल्लेबाज हैं। ये विश्व क्रिकेट का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजी क्रम है।’’ स्टेन और मोर्कल के लिए इस बल्लेबाजी क्रम पर अंकुश लगाना बहुत कठिन होगा खासकर तब जबकि वे खुद अपनी लय हासिल करने की जुगत में होंगे।

दरअसल स्टेन पिछले साल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट मैच के दौरान कंधे की हड्डी खिसकने के बाद से क्रिकेट से दूर हैं। हरभजन का मानना है कि करियर के लिए खतरा बनी चोट से वापसी करना आसान नहीं होता और यही वजह है कि दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज डेल स्टेन भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में बड़ी चुनौती साबित नहीं होंगे। हरभजन ने पीटीआई से कहा, ‘‘डेल स्टेन पिछले दस साल में सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाज है लेकिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी करना आसान नहीं होता। जिम्बाब्वे के खिलाफ टेस्ट मैच इसका सबूत नहीं है कि वह भारत के खिलाफ कैसा खेल सकता है।’’

भारत दौरे से बेहतर खिलाड़ी बनकर लौट रहे हैं श्रीलंकाई क्रिकेटर: निक पोथास
भारत दौरे से बेहतर खिलाड़ी बनकर लौट रहे हैं श्रीलंकाई क्रिकेटर: निक पोथास

हरभजन ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका में बल्लेबाजों को उछाल से पार पाना होगा। उन्होंने कहा, ‘‘20 ओवरों के बाद गेंद सीम लेना बंद कर देगी। उसके बाद उछाल ही चुनौती होगी।’’ हार्दिक पंड्या छठे नंबर के लिये सही विकल्प हैं या नहीं इस बारे में बात करते हुए हरभजन ने कहा, ‘‘रोहित शानदार खिलाड़ी है । वह पूल और कट शाट बखूबी खेलता है । मेरी नजर में वह नंबर छह के लिए वो सबसे सही हैं। वो उछाल भरी गेंदों पर भी अपने स्ट्रोक्स खेल सकता है ।’’

उन्होंने आगे कहा, ‘‘हार्दिक प्रतिभाशाली लड़का है और रोहित मुकम्मल बल्लेबाज हैं।’’ दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले भारत को एक अभ्यास मैच मिला था लेकिन बोर्ड ने अभ्यास मैच खेलने से मना कर दिया। हरभजन इसे ज्यादा तूल नहीं देना चाहते। उन्होंने कहा, ‘‘टीम मैनेजमेंट ने यह फैसला लेने से पहले सोचा होगा। अभ्यास मैच नहीं मिलने पर भी नेट गेंदबाज उन्हें मैच से पहले अभ्यास का पूरा मौका देंगे।’’ उन्होंने यह भी कहा कि 300 टेस्ट विकेट ले चुके स्पिनर आर अश्विन की भारतीय टेस्ट प्लेइंग इलेवन में जगह पक्की होनी चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘यदि अश्विन की 300 टेस्ट विकेट के बाद भी जगह पक्की नहीं है तो फिर कब होगी।’’