Ian Chappell opposes scrapping of toss in test cricket
Faf du Plessis, Ian Chappel © Screengrab

ऑस्‍ट्रेलिया की टीम के पूर्व कप्‍तान इयान चैपल ने टेस्‍ट में टॉस को खत्‍म करने को लेकर उठ रही मांग का विरोध किया है। चैपल का कहना है कि ऐसा करना टेस्‍ट क्रिकेट के लिए अच्‍छा नहीं है। श्रीलंका के खिलाफ पहला टेस्‍ट बुरी तरह हारने के बाद दक्षिण अफ्रीका के कप्‍तान फाफ डु प्‍लेसिस ने टेस्‍ट क्रिकेट से टॉस खत्‍म करने की बात कही तो ये मुद्दा एक बार फिर गर्म हो गया। दक्षिण अफ्रीका पहली पारी में 126 और दूसरी पारी में 73 रन पर ऑलआउट हो गई।

'इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में अश्विन-कुलदीप साथ गेंदबाजी करें'
'इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में अश्विन-कुलदीप साथ गेंदबाजी करें'

डु प्‍लेसिस का कहना था कि टेस्‍ट में होम टीम का काफी फायदा मिलता है, ऐसे में टॉस को खत्‍म कर पहले बल्‍लेबाजी करने को लेकर निर्णय का फैसला मेहमान टीम को मिलना चाहिए।। चैपल ने इसपर अपनी टिप्‍पणी करते हुए कहा, “अगर आप बेकार प्रदर्शन करते हो तो इसके लिए टॉस को जिम्‍मेदार नहीं ठहरा सकते हो। टॉस को खत्‍म करने से डु प्‍लेसिस की समस्‍या का समाधान नहीं निकलेगा।”

विराट कोहली, जो रूट सभी फॉर्मेट में बनाते हैं रन

चैपल ने कहा, “खेल के सभी फॉर्मेट में अपनी स्किल डेवलप करना बेहद जरूरी है। विराट कोहली और जो रूट जैसे खिलाड़ी ऐसा कर पाने में कामयाब रहे हैं।” चैपल का कहना है कि क्रिकेट को संभालने वाले प्रशासक खेल के सबसे बड़े और सबसे छोटे फॉर्मेट के बीच संतुलन बनाने में विफल रहे हैं। टी-20 तेजी से फल फूल रहा है, लेकिन टेस्‍ट क्रिकेट पर उतना ध्‍यान नहीं दिया जा रहा है।

तालमेल की इस कमी के कारण खिलाड़ी सभी फॉर्मेट में अच्‍छा प्रदर्शन करने में कामयाब नहीं हो पा रहे हैं। सभी फॉर्मेट में अच्‍छी स्किल्‍स विकसित कर पाना खिलाड़ियों के लिए मुश्किल हो रहा है।