Ian Chappell wants Rohit Sharma to bat ahead of Virat Kohli in Tests
टेस्ट मैच के दौरान बल्लेबाजी करते रोहित शर्मा, विराट कोहली © AFP

भारतीय क्रिकेटर रोहित शर्मा के टेस्ट करियर पर अक्सर सवाल उठते रहे हैं। वनडे और टी20 फॉर्मेट के इस धमाकेदार बल्लेबाज का टेस्ट प्रदर्शन उनकी काबिलियत के मुताबिक नहीं है। हालांकि भारतीय कप्तान विराट कोहली ने हमेशा रोहित पर भरोसा दिखाया है और आलोचना के बावजूद भी उन्हें टेस्ट टीम में जगह दी है। रोहित आमतौर पर टेस्ट मैच में भारत के लिए छठें या सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हैं लेकिन पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान इयान चैपल चाहते हैं कि रोहित टेस्ट टीम में कोहली से आगे बल्लेबाजी करें।

आईपीएल 2018: मुंबई इंडियंस को रहेगा पहली जीत का इंतजार, जब किंग कोहली से टकराएंगे हिटमैन
आईपीएल 2018: मुंबई इंडियंस को रहेगा पहली जीत का इंतजार, जब किंग कोहली से टकराएंगे हिटमैन

इंडिया टुडे को दिए एक इंटरव्यू के दौरान चैपल ने कहा, “रोहित शर्मा मेरे लिए सबसे बड़ी निराशाओं में से एक रहा है। जब मैने साल 2007-08 में ऑस्ट्रेलिया में कुछ वनडे मैच खेलते देखा था और जिस तरह से वो शॉर्ट पिच गेंद को खेल रहा था, मैने खुद से कहा कि ये लड़का बहुत अच्छा खिलाड़ी हैं और ये हर हालात में अच्छा खेलेगा। वो सीमित ओवर के क्रिकेट में अच्छा है, खासकर वनडे में। मेरा मतलब है कि आप 50 ओवर के मैच में 264 रन कैसे बना सकते हो? वो एक कमाल का खिलाड़ी हैं, जिसके बाद अद्भुत क्षमता है। मेरी निराशा ये है कि उसने टेस्ट क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है।”

चैपल ने आगे कहा, “मैं सोचता हूं कि उसने अभी तक तय नहीं किया है कि वो किस तरह का टेस्ट क्रिकेटर है। मैं ये भी सोचता हूं कि विराट कोहली के बाद बल्लेबाजी करना उसकी परेशानी है। ऐसा कहकर मैं गॉर्डन ग्रीनेज और विवियन रिचर्ड्स का किस्सा याद दिला रहा हूं। गॉर्डन को नहीं पता था कि वो कितना अच्छा खिलाड़ी है। वो अच्छा खेलता था और जब विव क्रीज पर आते थे तो, वो सोचता था कि विव सारी लाइमलाइट ले जाते हैं और इस चीज ने बतौर खिलाड़ी उसे खत्म कर दिया। मैं बस ये सोच रहा हूं कि रोहित के दिमाग में ये चीज तो नहीं है।”

चैपल ने टेस्ट क्रिकेट में रोहित के बल्लेबाजी क्रम में बदलाव की बात करते हुए कहा, “मुझे लगता है कि अगर वो नंबर तीन पर बल्लेबाजी करेगा तो इसे बहुत मदद मिलेगी। मेरा मतलब है कि उसके पास जिस तरह की प्रतिभा है, उसे विश्व के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में से एक होना चाहिए।”