हार्दिक पांड्या © Getty Images
हार्दिक पांड्या © Getty Images

आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2017 में कई रिकॉर्ड बने। फाइनल मुकाबले में भारत और पाकिस्तान की टीमें आमने-सामने थीं और इस ऐतिहासिक मैच में रिकॉर्डों की झड़ी लग गई। इस मैच में दोनों टीमों की तरफ से छक्कों की बारिश देखने को मिली और मैच में इतने छक्के लगे कि इससे पहले किसी भी आईसीसी टूर्नामेंट के फाइनल में इतने छक्के नहीं लगे थे। भारत और पाकिस्तान के बीच खेले गए चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले में कुल 15 छक्के लगे जो कि किसी भी आईसीसी टूर्नामेंट के फाइनल से ज्यादा हैं। इससे पहले ये रिकॉर्ड साल 2003 के विश्व कप के फाइनल में भारत और ऑस्ट्रेलिया के मैच में बना था। साल 2003 के विश्व कप के फाइनल में 14 छक्के लगे थे।

लेकिन 14 साल बाद ये रिकॉर्ड टूट गया और इत्तेफाकन भारत को एक बार फिर से फाइनल में हार झेलनी पड़ी। इस मुकाबले में पाकिस्तान की तरफ से कुल 9 छक्के लगे। पाकिस्तान की तरफ से फखर जमान और मोहम्मद हफीज ने 3-3, अजहर अली, शोएब मलिक और इमाद वसीम ने 1-1 छक्का जड़ा। वहीं भारत की तरफ से कुल 6 छक्के लगे और ये सभी छक्के हार्दिक पांड्या के बल्ले से ही निकले। आपको बता दें कि फाइनल मुकाबले को पाकिस्तान की टीम ने 180 रनों के विशाल अंतर से जीतकर ट्रॉफी पर कब्जा किया।  [भारत बनाम पाकिस्तान, चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल, लाइव स्कोरकार्ड जानने के लिए क्लिक करें...] 

पाकिस्तान ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 4 विकेट के नुकसान पर 338 रन बनाए थे। जवाब में भारत की पूरी टीम 30.3 ओवरों में मात्र 158 रनों पर ढेर हो गई। टीम इंडिया की ओर से हार्दिक पांड्या की कुछ देर तक ्पना दमखम दिखा पाए। अन्य बल्लेबाज तू चल मैं आता हूं कि तर्ज पर आउट हुए।