हार्दिक पांड्या © Getty Images
हार्दिक पांड्या © Getty Images

जिस अंदाज में फाइनल मैच में पाकिस्तान के खिलाफ टीम इंडिया ने अपने हथियार डाल दिए उसे देखते हुए हार्दिक पांड्या कतई खुश नहीं होंगे। लेकिन इस बीच हार्दिक पांड्या ने एक बड़ा रिकॉर्ड जरूर अपने नाम कर लिया। ऑलराउंडर क्रिकेटर पांड्या ने उस समय टीम इंडिया की पारी को संभाला जब 72 रनों पर 6 विकेट गिर चुके थे। इस दौरान उन्होंने एक ओवर में तीन गेंदों पर तीन छक्के मारे और 32 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा कर डाला। इसके साथ ही हार्दिक पांड्या आईसीसी टूर्नामेंट के फाइनल में सबसे तेज अर्धशतक लगाने वाले बल्लेबाज बन गए। पांड्या इस मैच में 43 गेंदों में 76 रन बनाकर आउट हुए। पांड्या ने अपना यह अर्धशतक एक लंबा छक्का लगाकर पूरा किया।

इसके साथ ही हार्दिक पांड्या ने 18 साल पहले बनाए गए एडम गिलक्रिस्ट के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया। पांड्या के पहले साल 1999 विश्व कप फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के एडम गिलक्रिस्ट ने पाकिस्तान के ही खिलाफ 33 गेंदों में अर्धशतक जमाया था। गौर करने वाली बात ये है कि चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के फाइनल मैच में पाकिस्तान के मोहम्मद हफीज ने भी 34 गेंदों में अर्धशतक जमाया। लेकिन पांड्या ने इन सभी को पीछे छोड़ते हुए 32 गेंदों में अर्धशतक जमाया और यह बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया।  [भारत बनाम पाकिस्तान, चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल, लाइव स्कोरकार्ड जानने के लिए क्लिक करें...] 

 

फाइनल में पाकिस्तान ने भारत को 180 रनों से हराकर पहली बार चैंपियंस ट्रॉफी पर अपना कब्जा जमाया। 339 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम 50 ओवर भी नहीं खेल सकी और 30.3 ओवर में 158 रनों पर ढेर हो गई और मुकाबले को 180 रनों से हार गई। भारत की तरफ से हार्दिक पांड्या ने सबसे ज्यादा (76) रनों की पारी खेली। पांड्या ने अपनी पारी में 4 चौके और 6 छक्के जड़े। पाकिस्तान की तरफ से मोहम्मद आमिर ने शानदार गेंदबाजी का मुजाहिरा पेश करते हुए (3) बड़े खिलाड़ियों को आउट किया।