एम एस धोनी © Getty Images
एम एस धोनी © Getty Images

आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में पाकिस्तान के हाथों मिली करारी हार के बाद रांची में महेंद्र सिंह धोनी के घर की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। माना जा रहा है फाइनल में पाकिस्तान के हाथों हारने के बाद प्रशंसकों के गुस्से को देखकर ये फैसला लिया गया है। धोनी के घर की सुरक्षा के लिए रांची पुलिस पहले से ही तैनात रहती है, लेकिन फाइनल में मिली हार के बाद उनके घर की सुरक्षा के लिए अतिरिक्त सुरक्षाबलों को तैनात कर दिया गया है। फाइनल मुकाबले में धोनी बल्ले से भी कुछ खास नहीं कर सके और 16 गेदों में मात्र 4 रन बनाकर पवेलियन लौट गए थे। ये भी पढ़ें: किस खिलाड़ी को मिला गोल्डन बैट, तो किसने जीता गोल्डन बॉल का अवॉर्ड? जानिए

आपको बता दें कि बड़े टूर्नामेंट में हार के बाद अक्सर धोनी के घर की सुरक्षा बढ़ा दी जाती है। चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में पाकिस्तान के हाथों मिली 180 रनों से करारी हार के बाद प्रशंसकों में नाराजगी है और इसी को देखते हुए धोनी के घर की सुरक्षा बढ़ाई गई है। चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान ने 4 विकेट खोकर 338 रनों का विशाल स्कोर बनाया था।

जिसके जवाब में भारत की पूरी टीम मात्र 158 रनों पर सिमट गई और मुकाबले को 180 रनों के विशाल अंतर से हार गई। भारत का कोई भी बल्लेबाज पाकिस्तान के गेंदबाजों का सामना नहीं कर सका। भारत की तरफ से सिर्फ हार्दिक पांड्या ने ही कुछ संघर्ष किया और 43 गेंदों में 76 रनों की पारी खेली। भारत के 6 बल्लेबाज दोहरे अंक को भी नहीं छू सके और रोहित शर्मा (0), विरा कोहली (5), धोनी (4), जाधव (9), अश्विन और बुमराह 1-1 रन बनाकर पवेलिय लौट गए।