ICC says TV channel not co-operating on corruption probe
Representational picture © Reuters

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने आज दावा किया कि अल जजीरा स्‍पॉट फिक्सिंग के आरोपों की उसकी जांच में पर्याप्त सहयोग नहीं कर रहा है। इस टीवी चैनल ने भारत, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड की राष्ट्रीय टीमों से जुड़े मैचों में फिक्सिंग के आरोप लगाए हैं।

रूट और बेलिस ने ‘फिक्सिंग’ के दावों को हास्‍यास्‍पद करार दिया
रूट और बेलिस ने ‘फिक्सिंग’ के दावों को हास्‍यास्‍पद करार दिया

चैनल ने अपने स्टिंग ऑपरेशन में दावा किया है कि भारत, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड जैसे देश उन टीमों में शामिल हो सकते हैं जिन्हें पिछले दो वर्षों में मैच फिक्सरों ने प्रभावित किया।

आईसीसी ने बयान में कहा,‘हमारी प्रसारकों से बात चल रही है जिसने हमारे सहयोग करने और जानकारी साझा करने के लगातार आग्रहों को नकारा है जिससे अब तक हमारी जांच में रूकावट पैदा हुई है। क्रिकेट की सर्वोच्च संस्था ने कहा कि वह इन आरोपों को गंभीरता से ले रही है और उसने आज प्रसारित हुए इस पूरे स्टिंग ऑपरेशन को देखा है।

पीसीबी ने फिक्सिंग वीडियो में दिखाए गए रजा के खिलाफ जांच शुरू की

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने उस वीडियो के तथ्यों की जांच शुरू कर दी है जिसमें उसके टेस्ट खिलाड़ी हसन रजा को भारतीय मूल के खिलाड़ी के साथ दिखाया गया है जो एक अंडरकवर रिपोर्टर के साथ कथित तौर पर मैच फिक्सिंग करार को लेकर बात कर रहा है।

पीसीबी ने कहा कि उसकी भ्रष्टाचार निरोधक इकाई ‘रजा की भ्रष्ट गतिविधियों में कथित संलिप्तता से संबंधित रिपोर्टों की समीक्षा करने की प्रक्रिया में है।’ पीसीबी ने बयान में कहा ,‘सभी प्रासंगिक सबूतों को इकट्ठा करने और समीक्षा करने के बाद अगर जरूरी हुआ तो उचित कार्रवाई की जाएगी।’ रजा को अल जजीरा के कथित स्पॉट फिक्सिंग स्टिंग ऑपरेशन के वीडियो में दिखाया गया है। इसके बाद पीसीबी का बयान आया।