ICC scrappes Champions Trophy; Switch to a World T20 in 2021
Pakistan winner of Champions Trophy 2017 © Getty Images

बुधवार को आईसीसी ने अगले पांच साल के क्रिकेट मैचों के शेड्यूल का ऐलान किया। जहां एक तरफ आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप की शुरुआत से क्रिकेट फैंस उत्साहित हैं, वहीं 2018-2023 के इस शेड्यूल में चैंपियंस ट्रॉफी को जगह ना मिलने से थोड़ी निराशा भी है। आईसीसी का आधिकारिक बयान आने के बाद साफ हो गया है चैंपियंस ट्रॉफी आगामी शेड्यूल का हिस्सा नहीं होगी। इसका मतलब है कि आईसीसी ने ऑस्ट्रेलिया (2020) और भारत (2021) में एक के बाद एक होने वाले दो टी20 टूर्नामेंटों को मंजूरी दे दी है।

इंग्लैंड के खिलाफ वनडे में एक भी शतक नहीं लगा पाए हैं महेंद्र सिंह धोनी
इंग्लैंड के खिलाफ वनडे में एक भी शतक नहीं लगा पाए हैं महेंद्र सिंह धोनी

आईसीसी के आधिकारिक बयान के मुताबिक, “अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की नई संरचना के हिस्से के तौर पर आईसीसी बोर्ड ने पहले ही चैंपियंस ट्रॉफी की जगह एक और आईसीसी विश्व टी20 टूर्नामेंट को मंजूरी दी है, साथ ही सभी 104 टीमों को टी20 अंतर्राष्ट्रीय का दर्जा दे दिया है।”

आईसीसी के नए शेड्यूल के जारी होने के साथ ही चैंपियंस ट्रॉफी का एक लंबा इतिहास खत्म होने को आया है। साल 1998 में शुरू हुई चैंपियंस ट्रॉफी का पहला विजेता दक्षिण अफ्रीका था। भारतीय टीम ने 2002 में श्रीलंका के साथ संयुक्त रूप से ट्रॉफी जीती थी लेकिन 2013 में महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में भारत पहली पारी पूर्ण रूप से विजेता बना था। 2017 में नए कप्तान विराट कोहली की अगुवाई में भारत फाइनल तक पहुंचा था लेकिन टीम को पाकिस्तान के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था। सरफराज अहमद की कप्तानी में पाकिस्तान ने पहली बार चैंपियंस ट्रॉफी पर कब्जा किया था।