ईशान पोरेल, साभार- फेसबुक
ईशान पोरेल, साभार- फेसबुक

अंडर 19 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ टीम इंडिया की जीत में एक ओर जहां शतक जमाने वाले शुभमन गिल का हाथ रहा तो दूसरी ओर तेज गेंदबाज ईशान पोरेल ने भी टीम इंडिया की जीत में अहम भूमिका अदा की। पोरेल ने 6 ओवर में महज 17 रन देकर 4 विकेट लिए और पाकिस्तान को 69 रनों पर ऑल आउट कर दिया। सेमीफाइनल मैच में ईशान पोरेल सबसे सफल गेंदबाज रहे, जिनके दम पर टीम इंडिया ने 203 रनों से जीत हासिल कर फाइनल में जगह बनाई। ईशान पोरेल का ये प्रदर्शन देखकर लग रहा है कि इंडियन प्रीमियर लीग की टीमों ने दो दिन पहले हुई ऑक्शन में बहुत बड़ी गलती कर दी है।

दरअसल बैंगलोर में हुई खिलाड़ियों की बोली में किसी भी फ्रेंचाइजी ने ईशान पोरेल को नहीं खरीदा, जबकि तेज गेंदबाज कमलेश नागरकोटी, शिवम मावी कप्तान पृथ्वी शॉ, शुभमन गिल, ओपनर मनजोत कालरा हाथों-हाथ बड़ी कीमत पर बिक गए। मगर किसी भी टीम का ध्यान ईशान पोरेल की गेंदबाजी पर नहीं गया, जिनके पास रफ्तार भी है और विकेट लेने की काबिलियत भी।

अंडर-19 विश्व कप 2018: पाकिस्तान को 203 रनों से मात देकर फाइनल में पहुंची टीम इंडिया
अंडर-19 विश्व कप 2018: पाकिस्तान को 203 रनों से मात देकर फाइनल में पहुंची टीम इंडिया

 

अंडर-19 विश्व कप 2018: पाकिस्तान को 203 रनों से मात देकर फाइनल में पहुंची टीम इंडिया
अंडर-19 विश्व कप 2018: पाकिस्तान को 203 रनों से मात देकर फाइनल में पहुंची टीम इंडिया

अंडर 19 वर्ल्ड कप में ईशान पोरेल ने कुल 3 मैच खेले हैं, उन्होंने ऑस्ट्रेलिया और बांग्लादेश के खिलाफ कोई विकेट नहीं लिया लेकिन सेमीफाइनल जैसे कड़े मुकाबले में उन्होंने अपना बेस्ट प्रदर्शन किया। भले ही पहले दो मैचों में ईशान पोरेल के खाते में विकेट नहीं आए लेकिन उनकी लाइन और लेंथ को देखकर किसी ना किसी फ्रेंचाइजी को उनपर जरूर दांव खेलना चाहिए था। बहरहाल अब आईपीएल की बोली खत्म हो चुकी है लेकिन ईशान पोरेल को इसका अफसोस ना मनाते हुए टीम इंडिया को चौथी बार अंडर 19 वर्ल्ड कप जिताने की कोशिश करनी होगी, जो कि वो करेंगे भी।